Top
undefined
Breaking

कोरोना के खिलाफ जंग में हर चुनौती के लिए तैयार रहें सेनाएं

चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत ने कहा है कि इस मोड़ देश की सेनाएंकोरोना वायरस से निपटने के लिए देश की हर तरह मदद के लिए आगे रहेंगी।

कोरोना के खिलाफ जंग में हर चुनौती के लिए तैयार रहें सेनाएं

नई दिल्ली, देश में कोरोना वायरस का धीरे-धीरे प्रसार हो रहा है। कोविड-19 को नियंत्रित करने में सेना के समन्वित प्रयासों का प्रसार हुआ है। चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत ने कहा है कि इस मोड़ देश की सेनाएंकोरोना वायरस से निपटने के लिए देश की हर तरह मदद के लिए आगे रहेंगी। उन्होंने कहा कि ऐसे वक्त में देश को विशेष देखभाल प्रदान करने से लेकर क्वारंटाइन कैंप बनाने से लेकर सभी प्रकार की सहायता की आवश्यकता है। समाचार एजेंसी एएनआई से बात करते हुए चीफ ऑफ द डिफेंस स्टाफ(सीडीएस) जनरल बिपिन रावत ने कहा कि समय आ गया है जब सशस्त्र बलों को कोरोना वायरस के खिलाफ इस लड़ाई में आगे बढ़ना होगा और देश के सैनिकों को ऐसी चुनौती के लिए तैयार रहना चाहिए। सीडीएस जनरल रावत ने कहा कि सेनाओं द्वारा सरकार का समर्थन करने और क्वारंटाइन और आइसोलेशन के लिए बुनियादी ढांचे के विकास से लेकर हर तरह की सहायता प्रदान करने की अपेक्षा की जाती है।रक्षा बलों को चुनौती के लिए तैयार करने के लिए प्रेरित करते हुए उन्होंने कहा कि यह समय सैन्य सेवाओं के लिए अपने कार्यक्षमता से परे काम करने का समय है। जनरल रावत ने जोर देकर कहा कि कोविड​​-19 के खिलाफ सभी सरकारी एजेंसियों द्वारा समग्र समन्वित प्रयास केवल तभी सफल होंगे जब लोग उन निर्देशों का पालन करेंगे जो समय-समय पर लोगों को दिए जा रहे हैं।उन्होंने कहा कि सशस्त्र बलों ने पहले ही सभी रैंकों और परिवारों को निर्देश जारी कर दिए हैं कि वे उन निर्देशों का सख्ती से पालन करें। उन्होंने कहा कि सशस्त्र बलों ने पहले ही सभी रैंकों और परिवारों को निर्देश जारी कर दिए हैं कि वे उन निर्देशों का सख्ती से पालन करें। सीडीएस, जो सैन्य मामलों के विभाग के सचिव भी हैं, उन्होंने कैबिनेट सचिव और अन्य शीर्ष सरकारी अधिकारियों के साथ बैठकों में भाग लिया है।वह तीनों रक्षा बलों के साथ समन्वय कर रहे हैं ताकि लोगों को विदेश से बाहर निकाला जा सके।

Next Story
Share it
Top