Top
undefined
Breaking

अमेरिकी पैकेज से जोश में शेयर बाजार, सेंसेक्स 1861 अंक उछला, निफ्टी में भी करीब 500 अंकों की तेजी

अमेरिकी पैकेज से जोश में शेयर बाजार, सेंसेक्स 1861 अंक उछला, निफ्टी में भी करीब 500 अंकों की तेजी

मुंबई . शेयर बाजार में बुधवार को खुशनुमा माहौल रहा . अमेरिकी अर्थव्यवस्था के लिए प्रोत्साहन पैकेज की घोषणा के बाद भारतीय शेयर बाजार में भी निवेशकों ने जमकर खरीदारी की। मुंबई स्टॉक एक्सचेंज का 30 शेयरों वाला सूचकांक लाल निशान में खुलने के बाद दोपहर में तेजी से ऊपर चढ़ा और 1861 अंकों के उछाल के साथ 28,535.78 पर बंद हुआ। निफ्टी भी 496 अंकों की तेजी के साथ 8,297.80 पर बंद हुआ।

देशभर में 21 दिनों के लॉकडाउन के पहले दिन शेयर बाजार के शुरुआती कारोबार में उतार चढ़ाव देखने को मिल रहा है। मुंबई स्टॉक एक्सचेंज का 30 शेयरों वाला सूचकांक सेंसेक्स 174 अंकों की गिरावट के साथ 26499.81 पर खुला, लेकिन जल्द ही यह 27000 के पार चला गया, लेकिन करीब 10 बजे तक यह 125 अंकों की गिरावट के साथ कारोबार कर रहा था। नैशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 65.9 अंकों की गिरावट के साथ 7,735.15 पर खुला। सुबह करीब 10 बजे निफ्टी 41 अंकों की गिरावट के साथ 7759 अंकों पर था।

किन शेयरों में उछाल, किसमें गिरावट

सेंसेक्स पर रिलायंस इंडस्ट्रीज का शेयर 14.65 पर्सेंट चढ़ा तो एचडीएफसी, कोटक बैंक, मारुति, एचडीएफसी बैंक के शेयरों में भी 10 पर्सेंट से अधिक उछले। बजाज ऑटो, आईटीसी, ओएनजीसी, एचसीएल टेक, इंडसइंड बैंक को छोड़कर अन्य सभी शेयरों में तेजी रही। निफ्टी की बात करें तो यहां भी रिलांयस का जलवा रहा। इसके अलावा एचडीएफसी बैंक, कोटक बैंक, यूपीएल और मारुति टॉप गेनर्स रहे। इंडसइंड बैंक, आईओसी, कोल इंडिया, विप्रो, गेल टॉप लूजर्स रहे।

इन वजहों से बाजार में उछाल

कोरोना वायर के मद्दे नजर देशभर में आने-जाने पर 21 दिन की पाबंदी से बाजार में शुरू में उतार-चढाव दिखा पर एशयायी बाजारों से तेजी के संकेतों से स्थानीय कारोबारियों में भी उत्साह बढ़ गया था। वैश्विक बाजारों में तेजी का भी घरेलू बाजार पर सकारात्मक प्रभाव पड़ा। अमेरिका में सरकार और संदद के ऊपरी सदन सीनेट के बीच अमेरिकी अर्थव्यवस्था को संभालने के लिए 2,000 अरब डॉलर के प्रोत्साहन पैकेज को लेकर समझौते की घाषणा से वैश्विक बाजारों में तेजी आई।

आनंद राठी के प्रमुख (इक्विटी रिसर्च) नरेंद्र सोलंकी ने कहा कि कोरोना संबधी सार्वजनिक पाबंदी की नए सिरे से घोषणा से अनिश्चितता कम हुई है। साथ ही सरकार के प्रोत्साहन उपायों के आश्वासन से निवेशकों की धारणा सुधरी है। उन्होंने कहा कि वायदा और विकल्प खंड के अनुबंधों के कल (गुरुवार) समाप्त होने से पहले 'शार्ट कवरिंग (सौदों को पूरा करने के लिए खरीदारी) से बाजार में आयी यह तेजी चौतरफा रही। बड़ी, मझोली और छोटी कंपनियों के शेयरों में भी बढ़त दर्ज की गई।

वॉइट हाउस और सीनेट के बीच अमेरिका परकोरोनो वायरस महामारी के अर्थव्यवस्था पर पड़ने वाले प्रभाव से निपटने के लिए 2,000 अरब डॉलर के प्रोत्साहन पैकेज से जुड़े विधेयक पर सहमत होने से वैश्विक बाजारों में तेजी का असर भी घरेलू बाजार पर पड़ा। एशिया के अन्य बाजारों में चीन के शांघाई, हांगकांग, जापान के तोक्यो और दक्षिण कोरिया के सोल बाजार के प्रमुख सूचकांक 8 प्रतिशत तक मजबूत हुए। शुरूआती कारोबार में यूरोप के प्रमुख बाजारों में भी 4 प्रतिशत तक की तेजी चल रही थी। इस बीच, अंतरराष्ट्रीय तेल मानक ब्रेंट क्रूड का वायदा भाव 0.07 प्रतिशत मजबूत होकर 27.17 डॉलर बैरल पर पहुंच गया।

Next Story
Share it
Top