Top
undefined
Breaking

प्रज्ञा ठाकुर लेटर मामले में बड़ा खुलासा, पाकिस्‍तान के इस संगठन ने दी धमकी

प्रज्ञा ठाकुर लेटर मामले में बड़ा खुलासा, पाकिस्‍तान के इस संगठन ने दी धमकी

भोपाल. भाजपा सांसद प्रज्ञा ठाकुर को संदिग्ध पाउडर के साथ मिली धमकी भरे लेटर के मामले में बड़ा खुलासा हुआ है. पुलिस सूत्रों के अनुसार ऊर्दू में मिले धमकी भरे लेटर का ट्रांसलेट किया गया, तो पाकिस्तान के अनसारुल मुजाहिदीन आतंकी संगठन का जिक्र मिला. अनसारुल संगठन ने प्रज्ञा ठाकुर को मारने की बात लिखी है.

लेटर में मिला था पाउडर

सांसद प्रज्ञा ठाकुर के बंगले पर उस समय हड़कंप मच गया, जब लिफाफे में आए एक लेटर को खोलकर देखा. लेटर और उसमें आए पाउडर को हाथ लगाया, तो प्रज्ञा ठाकुर को खुजली होने लगी. मौके पर पहुंचे पुलिस अधिकारियों ने लेटर और पाउडर को जप्त कर अज्ञात के खिलाफ एफआईआर दर्ज की. ये लेटर ऊर्दू में लिखा था. सूत्रों ने बताया कि पुलिस ने जब लेटर का अनुवाद कराया, तो पता चला कि यह धमकी भरा लेटर अनसारुल नाम के आतंकी संगठन ने लिखा है. हालांकि इस लेटर की जांच भी की जा रही है. लेटर में अनसारुल मुसलामीन नाम का जिक्र है, जो कि अनसारुल पाकिस्तान में सक्रिय आतंकी संगठन है. यह अलग-अलग नाम से आतंक फैलाने का काम करता है.

ये है ऊर्दू में लिखा धमकी लेटर ?

'कहां से हैं, क्या करते हैं, सोचना नहीं. कुछ पता नहीं चलेगा. वैसे भी हम लोग जान हथेली पर लेकर चलते है, तूने इंसानियत के खिलाफ बहुत जुल्म किए हैं. मालेगांव में इतने सारे मुसलमानों की जान लेकर सैकड़ों को जख्मी कर अभी भी तेरा दिल नहीं भरा. दस साल जेल में रहकर भी तुझे अकल नहीं आई. जजों के सामने कैंसर की बीमारी का रोना रोकर और भीख मांगकर तुने जमानत ली. जमानत पर बाहर आकर ऐश कर रही है. लोगों के बीच दुश्मनी पैदा कर रही है. तू खुद को देशभक्त कहती है, असल में तू देशद्रोही है. तेरे जैसे लोगों को सबक सिखाने का फैसला किया है. कानून तुझे सजा दे या न दे, मगर अनसारुल मुसलामीन तुझे जरूर मारेगा. नेक काम से जन्नत मिलेगी. (लेटर के कुछ अंश...)

कई बिंदुओं पर चल रही जांच

भोपाल डीआईजी इरशाद वली ने कहा कि लेटर के साथ मिले पदार्थ को जांच के लिए भेजा गया है. लेटर काफी दिनों पुराना था. जांच की जा रही है. जांच के बिंदुओं के बारे में नहीं बताया जा सकता है. सभी तथ्यों पर जांच चल रही है और सभी बिंदु विवेचना में है, इसलिए इसकी जानकारी को ओपन नहीं किया जा सकता है. आपको बता दे कि साध्वी प्रज्ञा ठाकुर के आरोप के बाद अब पुलिस सतर्क हो गई है. पुलिस ने प्रज्ञा की पुरानी शिकायतों को भी जांच में लिया है.ये लेटर किसने भेजा और उसमें लिखी बातों में कितनी सच्चाई है, इसकी जांच की जा रही है. पुलिस के साथ इंटेलिजेंस और एटीएस भी अपने स्तर पर जांच में जुट गई है.

Next Story
Share it
Top