Top
undefined
Breaking

सेहत बनाए रखने में काम आएंगे ये 11 हेल्थ टिप्स

नए साल का स्वागत कर रहे हैं। कुछ लोगों के लिए यह समय अच्छी-बुरी चीजों एवं उतार-चढ़ाव के मिश्रण वाला रहा होगा।

सेहत बनाए रखने में काम आएंगे ये 11 हेल्थ टिप्स

वह समय फिर आ गया है, जब हम बीत रहे साल को अलविदा कहते हुए नए साल का स्वागत कर रहे हैं। कुछ लोगों के लिए यह समय अच्छी-बुरी चीजों एवं उतार-चढ़ाव के मिश्रण वाला रहा होगा। पिछला वर्ष चुनौतियों एवं मेडिकल प्रोफेशन में भी बदलावों वाला रहा है। उम्मीद करते हैं कि वर्ष 2020 में बेहतर बदलावों की ओर हम बढ़ेंगे और स्वास्थ्य एवं हेल्थकेयर के क्षेत्र में सुनहरा भविष्य देखने को मिलेगा, जबकि हेल्थकेयर के क्षेत्र में कई बदलाव देखने को मिल रहे हैं, तब हमारे निजी स्वास्थ्य के प्रति हमारी कुछ जवाबदारियां भी हैं। यहां 'हेल्थ सूत्र 2020' का जिक्र है, जो भविष्य में आपके बेहतर स्वास्थ्य को सुनिश्चित करते हुए आपको बीमारियों से दूर रखने में मददगार होंगे-

1-नमक की मात्रा को आधा करें- भारतीय भोजन में सोडियम की मात्रा अधिक रहती है और गैर संक्रामक बीमारियों के लिए यह बड़े स्तर पर जिम्मेदार होता है। लंबे समय तक अधिक नमक लेना किडनी के लिए न भरे जानेवाले नुकसान का जिम्मेदार हो जाता है और ब्लड प्रेशर को बढ़ा देता है, इसलिए नमक की मात्रा को जितना कम कर सकते हों करें, कम नमक खाना अच्छा होता है। खाना पकाते समय सामान्य मात्रा में नमक डालें या किसी अन्य विकल्प का इस्तेमाल करें।

2-छह मिनट में 500 मीटर पैदल वॉक- यदि आप छह मिनट में 500 मीटर पैदल चल सकते हैं, तो आप खुश हो सकते हैं कि आप हार्ट की समस्या से दूर हैं।

3-पेसिव स्मोकिंग को कहें-'न'- पेसिव स्मोकिंग से समयांतर में हायपरटेंशन की समस्या हो सकती है और ऐसा महिला-पुरुष दोनों में होता है। आवश्यकता है कि आप हायपरटेंशन से बचाव के लिए न सिर्फ इसका एक्सपोजर कम करें, बल्कि सेकंड हेंड स्मोकिंग से दूर रहें।

4-ओरल तंबाकू को 'न' करें- यह भ्रांति है कि केवल सिगरेट पीने से ही कैंसर होता है, बल्कि ओरल तंबाकू खाने से भी यह बीमारी हो सकती है।

5-फ्लू और निमोनिया के वैक्सीन लें- वैक्सीन से विभिन्न स्वास्थ्य समस्याओं से बचाव संभव है। मौसमी बुखार और निमोनिया भी इसमें शामिल हैं, इसलिए महत्त्वपूर्ण है कि आप नियमित रूप से वैक्सीन लें।

6-विटल्स को चेक करें- अपने निम्न रक्तचाप, शुगर की बढ़ती मात्रा, कॉलेस्ट्रॉल, हार्ट रेट और कमर के माप को 80 से नीचे रखना आपके लिए महत्त्वपूर्ण है।

7-नेचुरल भोजन लें- नेचुरल फास्ट फूड, जैसे-दूध, केला, संतरा, ड्राय फ्रूट आदि का सेवन करें। आर्टिफिशियल फास्ट फूड जिनमें रिफाइंड कार्ब्स और बैड फैट्स होते हैं, उनको नजरअंदाज करें।

8-सीपीआर 10 सीखें- अचानक कार्डिएक अरेस्ट होने पर दस मिनट के भीतर व्यक्ति को रिवाइव किया जाना संभव है। इस आपात स्थिति में सेवा कार्य के लिए सीपीआर सीखा जा सकता है।

9-घर को मच्छरों से मुक्त रखें- सुनिश्चित करें कि आपका घर मच्छरों से मुक्त रहे। घर के अंदर और बाहर मच्छरों के पनपने के स्थान पर प्रत्येक रविवार को (या सप्ताह में कम-से-कम किसी एक दिन) चेक करें और दवा छिड़कें।

10-शारीरिक गतिविधि- बेहतर स्वास्थ्य के लिए नियमित रूप से शारीरिक गतिविधि महत्त्वपूर्ण है, इसलिए जब भी मौका मिले, तो शारीरिक गतिविधि करें। प्रतिदिन कम-से-कम 30 मिनट व्यायाम करें।

11-कमर में कुछ इंच कम करें- कमर का माप बढ़ना आपकी लाइफ लाइन को कम कर सकता है। सुनिश्चित करें कि उम्र के साथ आपकी कमर न बढ़े। यह बीमारियों के लिए एक रास्ता बनाती है।

Next Story
Share it
Top