Top
undefined

स्पेन में कोरोना से 24 घंटों में 462 की मौत, अब तक 2000 से ज्यादा लोगों ने गंवाई जान

स्पेन में कोरोना से 24 घंटों में 462 की मौत, अब तक 2000 से ज्यादा लोगों ने गंवाई जान

मैड्रिड (स्पेन) . स्पेन में कोरोना वायरस से 24 घंटे में 462 लोगों की मौत हो गई। इसके बाद देश में घातक संक्रमण से मरने वालों की संख्या 2,182 पहुंच गई। स्वास्थ्य मंत्रालय ने सोमवार को यह जानकारी दी। एक दिन पहले जारी आंकड़ों की तुलना में मृत्यु दर में 27 फीसदी का इजाफा हुआ है। स्पेन में कोविड-19 के मामलों की संख्या 33,089 हो गई है। यह देश चीन और इटली के बाद सबसे ज्यादा प्रभावित है।

देशभर में 14 मार्च को लॉकडाउन लागू करने के बावजूद स्पेन में मौत और संक्रमण के मामले बढ़ रहे हैं। हालांकि देश ने संक्रमण की जांच करने की अपनी क्षमता में इज़ाफा किया है। प्रधानमंत्री पेड्रो सांचेज ने कहा कि लॉकडाउन को पहले दो हफ्तों के लिए लागू किया गया था, लेकिन इसे अब 11 अप्रैल तक के लिए बढ़ा दिया है।

करीब साढ़े चार करोड़ की आबादी वाले स्पेन में स्वास्थ्य प्रणाली ढहने के मुहाने पर है। सबसे ज्यादा प्रभावित इलाका राजधानी मैड्रिड है जहां 10,575 मामले आएं हैं और 1,263 लोगों की मौत हुई है, जो देश भर में हुई मौतों का 58 फीसदी है। स्वास्थ्य मंत्रालय के आपातकालीन समन्वयक फर्नांडो साइमन ने बताया कि करीब 3,910 स्वास्थ्य कर्मी इस घातक वायरस से संक्रमित हुए हैं।

वहीं, चीन में सोमवार (23 मार्च) को स्थानीय स्तर पर जानलेवा कोरोना वायरस का कोई मामला सामने नहीं आया, लेकिन विदेशों से संक्रमित होकर आने वाले लोगों की संख्या 39 और बढ़ गई है। राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग ने बताया कि वायरस से नौ और लोगों की मौत हुई है और ये सभी मौत सर्वाधिक प्रभावित वुहान में हुई।

हुबेई प्रांत और राजधानी वुहान और करीब 5.6 करोड़ लोगों को घरों में बंद करने के चीन के नाटकीय कदम के बाद संक्रमण के मामलों में काफी कमी आई और लगातार पांच दिन तक प्रांत में कोई नया मामला सामने नहीं आया।

प्रांत में यात्रा एवं काम पर लगे प्रतिबंधों में धीरे-धीरे ढील दी गई और इस महीने की शुरुआत में चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने वुहान का दौरा किया था। चीन में संक्रमण की दर धीमी होने के बाद पूरी दुनिया ने इस वैश्विक महामारी से लड़ने के लिए अपने प्रयास तेज कर दिए हैं।

अब चीन की परेशानी बाहर से आने वाले संक्रमणों को लेकर है जो पिछले कुछ हफ्तों में तेजी से बढ़कर 350 के पार पहुंच चुके हैं। सोमवार (23 मार्च) को सामने आए 39 नये मामलों में से 10 शंघाई में और 10 बीजिंग में थे।

Next Story
Share it
Top