Top
undefined
Breaking

जायजा लेने निकले मुख्यमंत्री, गर्ल्स हॉस्टल में लड़कियों को समझाया की लॉक डाउन का पालन करें

मुख्यमंत्री ने कहा कि ये कुछ दिन की समस्या है हम सब मिलकर इसे परास्त करेंगे और इंदौर में भी ये जंग हम जरूर जीतेंगे।

जायजा लेने निकले मुख्यमंत्री, गर्ल्स हॉस्टल में लड़कियों को समझाया की लॉक डाउन का पालन करें

भोपाल। सोमवार को एक बार फिर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भोपाल शहर का जायजा लेने सड़कों पर घूम रहे हैं। इस दौरान वे जेके रड स्थित महिला आईटीआई के हॉस्टल पहुंचे और छात्राओं से बातचीत कर उनकी समस्याओं को जाना और अधिकारियों को तुरंत इसके निराकरण के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री ने छात्राओं से कहा कि आप भी लॉक डाउन का पालन करें और अपने परिवारवालों से भी इसका पालन करने कहैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि ये कुछ दिन की समस्या है हम सब मिलकर इसे परास्त करेंगे और इंदौर में भी ये जंग हम जरूर जीतेंगे। छात्राओं से मिलने के बाद मुख्यमंत्री स्मार्ट सिटी के कंट्रोलरूम पहुंचे और कर्मचारियों की हौंसला बढ़ाया। मुख्यमंत्री ने कहा कि जब पूरा प्रदेश लॉक डाउन के कारण परेशान है तो मैं कैसे घर में बैठा रह सकता हूं। इसलिए हॉस्टल में बेटियों के हाल जानने आया हूं। मुख्यमंत्री को छात्राओं ने बताया कि सुरक्षा की दृष्टि से सभी मिलकर खाना बना रही हैं और साफ सफाई का ध्यान रख रही हैं। मुख्यमंत्री ने छात्राओं और वॉर्डन से पूछा कि राशन की कोई दिक्कत तो नहीं है। इस पर छात्राओं ने कहा कि फिलहाल राशन की कोई दिक्कत नहीं है। मुख्यमंत्री ने कहा कि हम कोरोना की ये लड़ाड़ जरूर जीतेंगे। इसके बाद मुख्यमंत्री स्मार्ट सिटी के कंट्रोल रूम पहुंचे और पूरे शहर की व्यवस्थाओं को देखा। मुख्यमंत्री ने काम कर रहे कर्मचारियों से कहा कि जब आप लोग 24 घंटे काम कर रहे इसलिए आपसे मिलने आया हूं। कुछ दिन की ओर बात है इसी तरह से लगे रहिए। मैं भी आपके साथ काम करता रहूंगा। मुख्यमंत्री ने कर्मचारियों से कहा कि कोई परेशानी हो तो भी मुझे बताएं। यहां से निकलने के बाद मुख्यमंत्री ने कहा कि इंदौर में बढ़ रहे कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या पर कहा कि इंदौर वो शहर है जो तीन-तीन बार स्वच्छता के मामले में पूरे देश में पहले स्थान पर आ चुका है। भोपाल और बाकी शहरों में स्थिति नियंत्रण में आई है। इंदौर में भी ये जंग जरूर जीतेंगे।

Next Story
Share it
Top