Top
undefined
Breaking

मोदी से मिलेंगे शिवराज, मंत्रिमंडल विस्तार और नाम पर लगेगी अंतिम मोहर

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान आज ज्योतिरादित्य सिंधिया से भी मिल रहे हैं। संभावित मंत्रियों में सिंधिया समर्थकों के नाम भी शामिल हैं।

मोदी से मिलेंगे शिवराज, मंत्रिमंडल विस्तार और नाम पर लगेगी अंतिम मोहर

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान आज शाम प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से मुलाकात करने वाले हैं। दोनों नेताओं के बीच ये मुलाकात शाम 4 बजे होगी। मध्य प्रदेश मंत्रिमंडल विस्तार से पहले होने जा रही ये मुलाकात महत्वपूर्ण है। माना जा रहा है कि मंत्रिमंडल विस्तार से पहले शिवराज, पीएम मोदी से चर्चा और उनकी सहमति लेंगे।

अमित शाह ने दिया मंत्रिमंडल को अंतिम स्वरूप

शिवराजसिंह चौहान रविवार शाम को दिल्ली आए थे। इसके बाद उन्होंने पार्टी नेताओं के साथ मैराथन बैठकें की। अंत मे देर रात तक गृहमंत्री अमित शाह के आवास में चली बैठक में प्रस्तावित मंत्रिमंडल विस्तार के स्वरूप को अंतिम रूप दे दिया गया। इस बैठक में प्रदेश अध्यक्ष वी ड़ी शर्मा, प्रदेश प्रभारी विनय सहस्त्रबुद्धे, संगठन मंत्री सुहास भगत के अलावा पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जे पी नड्डा भी मौजूद थे।

नेताओं से अलग अलग चर्चा

इससे पहले शिवराज सिंह ने संगठन के राष्ट्रीय महामंत्री बी एल संतोष, केंद्रीय कृषि मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर और जे पी नड्डा से अलग अलग बैठक करके मंत्रिमंडल विस्तार का खाका तैयार कर लिया था।दिल्ली पहुंचते ही मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने से एक एक कर पार्टी नेताओं से अलग अलग बैठकें करके साफ संकेत दे दिया था कि उनकी तैयारी पूरी है।अब सिर्फ राष्ट्रीय नेतृत्व को मंत्रिमंडल विस्तार को हरी झंडी देना बाकी है।

मीडिया से बनाई दूरी

मुख्यमंत्री शिवराजसिंह दिल्ली दौरे के दौरान मीडिया से दूरी बनाए हुए हैं।पार्टी नेताओं से हुई बैठकों पर भी कोई बात उन्होंने बाहर नहीं की। उम्मीद की जा रही है पीएम नरेंद्र मोदी से मिलने के बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह मीडिया से चर्चा करेंगे।

एक ही दिन में निपटाया काम

शिवराज सिंह दो दिन के दौरे पर दिल्ली आए हैं। मार्च में मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के बाद यह शिवराज सिंह का पहला दौरा है। वैसे दो दिन काम शिवराज सिंह ने कमोबेश कल रात में ही पूरा कर लिया था। आज सिर्फ ज्योतिरादित्य सिंधिया से चर्चा और पीएम नरेंद्र मोदी की मंत्रिमंडल विस्तार पर अंतिम मोहर लगना बाकी है।

शपथ ग्रहण की समस्या दूर

रविवार रात में ही राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के आदेश के बाद उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल को मध्यप्रदेश का अतिरिक्त कार्यभार दे दिया गया है। इसलिए अब मध्य प्रदेश में शिवराज मंत्रिमंडल विस्तार में कोई अड़चन नहीं है। इससे पहले तक ये सवाल उठ रहा था कि राज्यपाल लालजी टंडन बीमार हैं इसलिए उनकी गैर मौजूदगी में शपथ समारोह नहीं हो सकता।

Next Story
Share it
Top