Ad
ब्रेकिंग न्यूज़
राहुल गांधी के खिलाफ आपराधिक केस दर्ज करने के लिए दायर याचिका पर सुनवाई 26 तक टलीराहुल के ‘चोकीदार चोर है’ अभियान के बचाव में आई कांग्रेसप्रधानमंत्री मोदी के विकास कार्यों की विरासत को आगे बढ़ाऊंगा: गौतम गंभीरभाजपा सांसद मीनाक्षी लेखी, रमेश बिधूड़ी सहित गौतम गंभीर और हंसराज हंस ने दाखिल किया नामांकनउप्र में तीसरे चरण का मतदान समाप्त, मुलायम समेत 120 उम्मीदवारों के भाग्य ईवीएम में कैदअखिलेश की सभा में तोड़ी कुर्सियां, नारेबाजी के कारण डिंपल नहीं दे पायीं पूरा भाषणफरीदाबाद को गुंडाराज से मुक्ति दिलाएंगे नवीन जयहिंद : सिसोदियासुषमा, शिवराज व तीन पूर्व मंत्रियों की मौजदगी में भरा भाजपा उम्मीदवार भार्गव ने नामांकन
छत्तीसगढ़
नक्सलियों के हमले ने बढ़ाई बेचैनी, अभेद्य की गई प्रधानमंत्री की सुरक्षा
By Swadesh | Publish Date: 8/11/2018 5:53:38 PM
नक्सलियों के हमले ने बढ़ाई बेचैनी, अभेद्य की गई प्रधानमंत्री की सुरक्षा

रायपुर। छत्तीसगढ़ में पहले चरण के तहत होने वाले चुनाव की तैयारियां अंतिम दौर में है। मतदान से पूर्व प्रचार के लिए देश के प्रधानमंत्री भारतीय जनता पार्टी के प्रत्याशियों के लिए चुनावी जनसभा करने के लिए आने वाले हैं। उनकी रैली से पूर्व गुरुवार को नक्सलियों ने सेना की बस को बारूदी सुरंग से उड़ाने की घटना ने सुरक्षा एजेंसियां सकते में आ गई हैं। हमले को देखते हुए प्रधानमंत्री की सभा स्थल पर सुरक्षा व्यवस्था और अधिक कड़ी कर दी गई है। 

 
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी शुक्रवार को प्रदेश में चुनाव की प्रथम आम जनसभा को सम्बोधित करने आ रहे हैं। जनसभा की सुरक्षा से लेकर अन्य सभी तैयारियों को पूरा कर लिया गया था, लेकिन गुरुवार को अचानक नक्सल प्रभावित क्षेत्र में आने वाले बचेली थानाक्षेत्र में नक्सलियों द्वारा जवानों से भरी मिनी बस को आईईडी धमाके से बारूदी सुरंग के जरिये उड़ा दिया गया। प्रधानमंत्री की चुनावी जनसभा से ठीक एक दिन पूर्व सीआरपीएफ के जवानों को निशाना बनाते हुए बारूदी सुरंग धमाके की जानकारी मिलते ही सुरक्षा बलों की बैचेनी बढ़ गई। आनन-फानन सभी जांच एजेंसियां जगदलपुर में होने वाली प्रधानमंत्री की जनसभा स्थल की ओर रवाना हो गई। इसके साथ ही तुरंत केन्द्रीय सुरक्षा बलों के जवानों ने सतर्कता बढ़ाते हुए सघन जांच अभियान छेड़ दिया। सभा स्थल के आसपास से लेकर मंच के चप्पे-चप्पे की जांच शुरू कर दी गई। बम निरोधक दस्ता, डॉग स्क्वॉयड के साथ गहन छानबीन की गई। सभा स्थल पर सुरक्षा की जिम्मेदारी संभाल रहे
 
आईजी बस्तर विवेकानन्द सिन्हा पुलिस के आला अफसरों के साथ जनसभा स्थल पहुंचे। यहां पर उन्होंने अफसरों के साथ स्थल का जायजा लिया। उन्होंने पुलिस कर्मियों को मुस्तैदी से सुरक्षा व्यवस्था में तैनात रहने की ताकीद दी। उन्होंने बताया, सभा स्थल के आसपास के क्षेत्र में ड्रोन कैमरों के जरिये नजर रखी जा रही है। प्रधानमंत्री की रैली समाप्त होने तक इलाके को पूरी तरह से सुरक्षा बल के जवानों के साथ ही पुलिस कर्मियों ने सील कर दिया है। यहां पर अभेद्य सुरक्षा घेरे में प्रधानमंत्री जनसभा को सम्बोधित करेंगे। 
 
बताते चलें कि, गुरुवार की सुबह नक्सलियों ने बचेली थानाक्षेत्र में सुरक्षा बल की बस को निशाना बनाते हुए बारूदी सुरंग से विस्फोट कर दिया। एनएमडीसी बचेली-एनएमडीसी आकाशनगर जाने के मार्ग के 6 नम्बर मोड़ पर हुए ब्लास्ट में बस में सवार सीआरपीएफ के दो जवान शहीद हो गए। वहीं तीन ग्रामीणों की भी हमले में मौत हुई है। जबकि हमले में दो जवान गंभीर रूप से घायल हुए हैं, जिनका इलाज चल रहा है। इस हमले के बाद से सुरक्षा एजेंसियों ने प्रधानमंत्री की चुनावी सभा को अभेद्य सुरक्षा किले में तब्दील कर दिया है।
COPYRIGHT @ 2018 SWADESH. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS