ब्रेकिंग न्यूज़
देश
सुप्रीम कोर्ट से जमानत मिलने के 18 घंटे बाद रिहा हुई प्रियंका, पुलिस पर जबरन माफी मंगवाने का आरोप
By Swadesh | Publish Date: 15/5/2019 6:00:18 PM
सुप्रीम कोर्ट से जमानत मिलने के 18 घंटे बाद रिहा हुई प्रियंका, पुलिस पर जबरन माफी मंगवाने का आरोप

कोलकाता। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की मीम साझा करने के आरोप में गिरफ्तार की गई भारतीय जनता युवा मोर्चा की नेता प्रियंका शर्मा को सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बावजूद बंगाल सरकार ने समय पर रिहा नहीं किया। उन्हें जबरदस्ती 18 घंटे तक जेल में रखा गया और माफीनामा पर हस्ताक्षर करने के लिए मजबूर किया गया है। यह दावा खुद प्रियंका शर्मा ने किया है। मंगलवार सुप्रीम कोर्ट ने शर्मा को तत्काल रिहा करने का निर्देश दिया था। 

कोर्ट ने उन्हें माफी मांगने का भी सुझाव दिया था लेकिन न्यायमूर्ति इंदिरा बनर्जी और राजीव खन्ना की खंडपीठ ने साफ किया था कि माफी मांगने अथवा नहीं मांगने की वजह से उन्हें रिहा करने की प्रक्रिया रुकनी नहीं चाहिए। बावजूद इसके अलीपुर सेंट्रल जेल में बंद प्रियंका शर्मा को रिहा नहीं किया गया। उन्हें सारा रात जेल में रखा गया और अंत में जब दूसरे दिन भी प्रियंका के वकील ने सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाने की चेतावनी दी तब बुधवार सुबह 9:40 बजे उन्हें रिहा किया गया। रिहाई के बाद प्रियंका सीधे प्रदेश भाजपा मुख्यालय पहुंची। वहां उन्होंने मीडिया से बात की।
 
उन्होंने बताया कि सुप्रीम कोर्ट के निर्देश के बावजूद उन्हें जबरदस्ती 18 घंटे तक जेल में रखा गया। उन्हें माफीनामा पर हस्ताक्षर करने के लिए बाध्य किया गया। पुलिस ने खुद माफीनामा तैयार किया था जिस पर लिखा गया था कि वह जीवन में कभी ममता बनर्जी के खिलाफ कोई मीम शेयर नहीं करेंगी। 
 
प्रियंका ने साफ कर दिया है कि वह इस मामले को लेकर ममता बनर्जी के खिलाफ केस लड़ेंगी। उन्होंने कहा कि ममता बनर्जी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ लगातार अपशब्दों का इस्तेमाल करती हैं। उनके नेता पीएम के खिलाफ लगातार असंसदीय शब्दों का इस्तेमाल करते हैं और तमाम तरह के पोस्ट सोशल साइट पर साझा करते हैं लेकिन उनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की जाती।
 
प्रियंका शर्मा की 18 घंटे बाद रिहाई को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने कड़ा रुख अख्तियार किया है। ममता बनर्जी सरकार के खिलाफ अवमानना का मामला चलाने की चेतावनी दी है। इस पर जुलाई में सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई होगी। 
COPYRIGHT @ 2018 SWADESH. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS