देश
दिवालिया निजी एयरलाइन को बेलआउट देकर सरकार निजी प्लेयर को बचा रही: कांग्रेस
By Swadesh | Publish Date: 20/3/2019 5:18:57 PM
दिवालिया निजी एयरलाइन को बेलआउट देकर सरकार निजी प्लेयर को बचा रही: कांग्रेस

नई दिल्ली। कांग्रेस ने बुधवार को कर्ज में डूबी व घाटे में चल रही जेट एयरवेज़ के लिए कथित तौर पर प्रस्तावित बेलआउट पैकेज पर सवाल उठाते हुए कहा है कि सरकार अब निजी कंपनियों और उद्योगपतियों को नए ढंग से बेलआउट पैकेज देकर बचाने का काम कर रही है।

दिल्ली में पार्टी मुख्यालय में प्रेसवार्ता कर कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा कि जेट एयरवेज़ में एनआरआई भारतीय नरेश गोयल के 51 प्रतिशत शेयर हैं। एतिहाद एयरवेज़ के 24 प्रतिशत शेयर हैं। जेट एयरवेज़ की बैलेंस शीट के मुताबिक कंपनी 7400 करोड़ के घाटे में है। इसके अलावा कंपनी पर बैंकों का 8500 करोड़ का कर्जा है। उन्होंने कहा कि कंपनी पर वित्तीय अनियमितताओं और कंपनी के पैसे को दूसरी जगह भेजने के मामले में जांच चल रही है। 
 
कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा कि मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक सरकार घाटे में चल रही इस एयरलाइन को बचाने के लिए नई योजना लाई है। इसके तहत बैंक जेट एयरवेज़ के 8500 हजार के कर्ज के बदले एक रुपये में कंपनी के शेयर 51 प्रतिशत शेयर हैं। वहीं एतिहाद एयरवेज़ से सरकार प्रति शेयर 150 रुपये देकर उसकी हिस्सेदारी खरीद लेगी। इसके लिए इस बात का आकलन नहीं किया गया कि प्रति शेयर कितनी कीमत होनी चाहिए। 
 
सुरजेवाला ने कहा कि सरकार निजी प्लेयरों को घाटे में चल रही एक कंपनी से सरकारी धन देकर मुक्ति दिलाना चाह रही है। सरकार जनता का धन जिसका उपयोग किसानों और बेरोजगार युवाओं की बेहतरी पर खर्च होना चाहिए उसका उपयोग निजी कंपनी और एनआरआई को मुक्त कराने के लिए कर रही है। सरकार अपनी ही जांच के पूरा होने का इंतजार तक नहीं कर रही।
COPYRIGHT @ 2018 SWADESH. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS