मध्य प्रदेश
थाने में युवक की मौत मामले में पांच पुलिसकर्मी सस्पेंड, गृहमंत्री ने दिया जांच का आश्वासन
By Swadesh | Publish Date: 19/6/2019 5:18:20 PM
थाने में युवक की मौत मामले में पांच पुलिसकर्मी सस्पेंड, गृहमंत्री ने दिया जांच का आश्वासन

भोपाल। राजधानी के बैरागढ़ पुलिस थाने में हिरासत में हुई युवक की मौत मामले में आईजी योगेश देशमुख ने कार्रवाई करते हुए बैरागढ़ थाने के पांच पुलिसकर्मियों को सस्पेंड कर दिया है। इसमें बैरागढ़ के टीआई अजय मिश्रा, एसआई राजेश तिलवारी और तीन जवान शामिल हैं। बैरागढ़ थाने में हंगामे की आशंका को देखते हुए अतिरिक्त पुलिस फोर्स तैनात की गई है। खुद आईजी योगेश देशमुख बैरागढ़ थाने पहुंचे हुए हैं। वहीं हमीदिया अस्पताल के बाहर भी पुलिस तैनात की गई है।


युवक पिटाई मामले में गृहमंत्री बाला बच्चन ने कहा है कि हम जांच करवा रहे हैं और मामले में कार्यवाही की जाएगी। वहीं जवान बेटे का शव देख कर घरवालों का रो-रोकर बुरा हाल है। परिजन हमीदिया अस्पताल की मोर्चुरी में हैं। वे हत्या और लूट का प्रकरण दर्ज करने की मांग कर रहे हैं। डीआईजी इरशाद वली भी हमीदिया अस्पताल पहुंचे हुए हैं और मृतक शिवम के परिवार वालों को मनाने की कोशिश कर रहे हैं। 

मृतक शिवम के पिता सुरेश मिश्रा खुद पुलिस में है। उनकी पोस्टिंग साइबर सेल में क्लर्क के पद पर है। बेटे की मौत के बाद उनके भी आंसू थम नहीं रहे। वह दोषी पुलिसकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग कर रहे हैं। मृतक के पिता को पोस्टमार्टम के लिए राजी करने के लिए साइबर सेल के एआईजी शशिकांत शुक्ला भी हमीदिया अस्पताल पहुंचे हुए हैं।  

मृतक शिवम के पिता सुरेश मिश्रा ने आरोप लगाया कि उनके बेटे की पुलिस ने हत्या की है। उन्होंने बताया कि बेटे के पास पैसे और सोने की चेन थी, जो नहीं मिल रही है। टक्कर के बाद गाड़ी पूरी तरह टूट गई थी, लेकिन बेटे को खरोंच तक नहीं आई थी। थाने ले जाकर पुलिस ने इतनी पिटाई कि उसके कान और शरीर पर निशान पड़ गए थे। 

उन्हें शक है कि पुलिस अपने प्रभाव का इस्तेमाल करके पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट को भी प्रभावित कर सकती है। ऐसे में निष्पक्ष जांच होनी चाहिए। उन्होंने दोषी पुलिसकर्मियों के खिलाफ एफआईआर की मांग की है। फिलहाल परिजन मृतक शिवम का पोस्टमॉर्टम कराने को तैयार नहीं है।
COPYRIGHT @ 2018 SWADESH. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS