Ad
ब्रेकिंग न्यूज़
राहुल गांधी के खिलाफ आपराधिक केस दर्ज करने के लिए दायर याचिका पर सुनवाई 26 तक टलीराहुल के ‘चोकीदार चोर है’ अभियान के बचाव में आई कांग्रेसप्रधानमंत्री मोदी के विकास कार्यों की विरासत को आगे बढ़ाऊंगा: गौतम गंभीरभाजपा सांसद मीनाक्षी लेखी, रमेश बिधूड़ी सहित गौतम गंभीर और हंसराज हंस ने दाखिल किया नामांकनउप्र में तीसरे चरण का मतदान समाप्त, मुलायम समेत 120 उम्मीदवारों के भाग्य ईवीएम में कैदअखिलेश की सभा में तोड़ी कुर्सियां, नारेबाजी के कारण डिंपल नहीं दे पायीं पूरा भाषणफरीदाबाद को गुंडाराज से मुक्ति दिलाएंगे नवीन जयहिंद : सिसोदियासुषमा, शिवराज व तीन पूर्व मंत्रियों की मौजदगी में भरा भाजपा उम्मीदवार भार्गव ने नामांकन
मध्य प्रदेश
कृष्णा गौर को टिकट देने पर भाजपा कार्यालय में हंगामा
By Swadesh | Publish Date: 8/11/2018 5:02:57 PM
कृष्णा गौर को टिकट देने पर भाजपा कार्यालय में हंगामा

भोपाल। टिकट की मारामारी को लेकर भोपाल की बहुचर्चित विधानसभा सीट पर गुरुवार को भारतीय जनता पार्टी ने अपनी तीसरी सूची में कृष्णा गौर के नाम का ऐलान कर दिया। इसके साथ ही संभावित दावेदारों की उम्मीदों पर पानी फिर गया, तो वहीं पार्टी में परिवारवाद के खिलाफ विरोध भी मुखर हो गया। गुरुवार को इस सीट पर टिकट फायनल होने के बाद पार्टी कार्यकर्ताओं ने भोपाल स्थित भाजपा कार्यालय में जमकर हंगामा मचाया। उन्होंने पार्टी पर परिवारवाद को बढ़ावा देने का आरोप लगाते हुए पदाधिकारियों के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।

 
बता दें कि गोविन्दपुरा विधानसभा सीट से बाबूलाल गौर लगातार 10 बार चुनाव लड़े हैं और यहां से जीत हासिल कर विधानसभा में मंत्री और मुख्यमंत्री तक रह चुके हैं। ऐसे में उन्होंने एक बार फिर यहां से अपनी दावेदारी पेश की थी, लेकिन पार्टी ने पहले ही संकेत दे दिया था कि अब उन्हें टिकट नहीं दिया जाएगा। इसके बाद बाबूलाल गौर के बगावती तेवर भी देखने को मिले थे। उन्होंने कहा था कि उनकी जगह उनकी बहू कृष्णा गौर को टिकट दी जाए। वहीं, इस सीट से भोपाल महापौर आलोक शर्मा, वीडी शर्मा और तपन भौमिक ने भी दावेदारी पेश की थी।
 
पार्टी ने गुरुवार को गोविन्दपुरा सीट से पूर्व भोपाल महापौर और बाबूलाल गौर की बहू कृष्णा गौर को अपना उम्मीदवार घोषित किया। इसके बाद अन्य दावेदारों के समर्थक पार्टी कार्यालय पहुंच गए और उन्हें वहां जमकर हंगामा किया। उन्होंने पार्टी पर परिवारवाद को बढ़ावा देने का आरोप लगाया। कार्यकर्ताओं का कहना था कि गोविन्दपुरा सीट पर बाबूलाल गौर के बाद उनकी बहू को टिकट देकर इस सीट पर गौर परिवार का ठप्पा लगा दिया है। कार्यकर्ताओं ने पार्टी पदाधिकारियों से गोविन्दपुरा सीट से प्रत्याशी बदलने की मांग की है।
COPYRIGHT @ 2018 SWADESH. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS