मध्य प्रदेश
बिना मजिस्‍ट्रेट और वीडियाग्राफी के नहीं की जाये कोई भी तलाशी : कलेक्‍टर
By Swadesh | Publish Date: 23/3/2019 5:23:06 PM
बिना मजिस्‍ट्रेट और वीडियाग्राफी के नहीं की जाये कोई भी तलाशी : कलेक्‍टर

नीमच। लोकसभा चुनाव के दौरान निर्वाचन कार्यक्रम की घोषणा के साथ ही राजनैतिक दलों की सभा रैलियों, सार्वजनिक बैठकों व बड़े खर्चों पर वी.एस.टी. के माध्‍यम से सतत निगरानी की जा रही है। कोई भी तलाशी बगैर मजिस्‍ट्रेट एवं बगैर वीडियोग्राफी के नहीं की जायेगी। महिलाओं के हेण्‍डपर्स की तलाशी भी नहीं ली जायेगी। यह बात कलेक्‍टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी राजीव रंजन मीना ने शनिवार को आयोजित एफ.एस.टी. दलों में शामिल अधिकारी-कमर्चारियों के प्रशिक्षण कार्यक्रम में कही। 

प्रशिक्षण में चुनाव से संबंधित दायित्‍वों पर विस्‍तार से जानकारी दी गई। साथ ही फ्लाईगिं स्‍कॉट के दायित्‍व, एस.एस.टी. के दायित्‍व, एस.एस.टी. द्वारा जब्‍ती के संबंध में विस्‍तार से प्रशिक्षण दिया गया। कलेक्‍टर मीना ने प्रशिक्षण में कहा कि सभी एफ.एस.टी. सौंपे गये दायित्‍वों का तत्‍परतापूर्वक पालन करें। अगर कोई भी समस्‍या आती है तो तुरंत जिला निर्वाचन कार्यालय के कन्‍ट्रोल रूम पर सूचना दे सकते है। जांच कार्यवाही के दौरान एफ.एस.टी. दल के सदस्‍य अपना परिचय पत्र अवश्‍य लगायें। जांच के दौरान अच्‍छा व्‍यवहार रहे, जी.पी.एस. चालू रहे, प्रतिदिन क्षेत्र का नियमित भ्रमण करें और चेकिंग के दौरान सम्‍पूर्ण जांच कार्यवाही की वीडियोग्राफी अनिवार्य रूप से करें। महिलाओं की चेकिंग महिला कांसटेबल से ही करवाई जाये। 
 
पुलिस अधीक्षक राकेश कुमार सगर ने बताया कि मध्‍यप्रदेश एवं राजस्‍थान बार्डर पर दस चेक पोस्‍ट प्रारम्‍भ हो गये हैं। यहां सी.सी.टी.व्‍ही. कैमरों के माध्‍यम से सतत निगरानी की जा रही है। एफ.एस.टी. भी चेक पोस्‍ट पर सूचना प्राप्‍त होने पर तत्‍काल पहुचंकर कार्यवाही करें। प्रशिक्षण में अपर कलेक्‍टर विनयकुमार धोका, सहित एफ.एस.टी. के दल में शामिल अधिकारी उपस्थित रहे। 
COPYRIGHT @ 2018 SWADESH. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS