Ad
ब्रेकिंग न्यूज़
पीएमओ प्रवक्ता जगदीश ठक्कर का निधन, प्रधानमंत्री ने परिजनों से मुलाकात कर जताया शोकशिक्षा ही अच्छे व्यक्ति व समाज के निर्माण की आधारशिला-राष्ट्रपति कोविंदसुप्रीम कोर्ट ने केरल के 'लव जिहाद' मामले में एनआईए की रिपोर्ट लौटाईअन्याय, भेदभाव के खिलाफ आवाज उठाती रहेगी एनएपीएम : ऊषाजम्मू एवं कश्मीर विस को भंग करने के राज्यपाल के फैसले को चुनौती देने वाली याचिका खारिजनिजामुद्दीन दरगाह के गर्भगृह में प्रवेश की अनुमति देने संबंधी याचिका पर नोटिसनिजामुद्दीन दरगाह के गर्भगृह में प्रवेश की अनुमति देने संबंधी याचिका पर नोटिसलोकपाल के सेलेक्शन पैनल में विपक्ष के नेता को शामिल करने के लिए याचिका
विदेश
मलेशिया में मृत्युदंड होगा समाप्त, सरकार के इस फैसले का मानवाधिकार समूहों ने किया स्वागत
By Swadesh | Publish Date: 11/10/2018 5:38:42 PM
मलेशिया में मृत्युदंड होगा समाप्त, सरकार के इस फैसले का मानवाधिकार समूहों ने किया स्वागत

कुआलालंपुर। मलेशिया के मंत्रिमंडल ने मृत्यु दंड को खत्म करने पर सहमति जताई है। इस फैसले का मानवाधिकार समूहों ने स्वागत किया है। मलेशिया में फिलहाल हत्या, अपहरण, आग्नेयास्त्रों समेत अन्य अपराधों के लिये मौत की सजा अनिवार्य है। मलेशिया में फांसी देकर मौत की सजा दी जाती है। संचार एवं मल्टी मीडिया मंत्री गोविंद सिंह देव ने मृत्यु दंड को समाप्त करने के मंत्रिमंडल के संकल्प की पुष्टि की।

 
उन्होंने कहा, ‘मुझे उम्मीद है कि कानून में संशोधन होगा।’ सरकार ने मृत्यु दंड की सजा को समाप्त करने का फैसला किया, क्योंकि इसका घरेलू मोर्चे पर जोरदार विरोध हो रहा था। इस फैसले का अधिकारों की पैरवी करने वाले अधिवक्ताओं ने स्वागत किया है। लॉयर्स फॉर लिबर्टी अधिकार समूह के एक सलाहकार एन सुरेंद्रन ने एक बयान में कहा, ‘मौत की सजा बर्बरतापूर्ण है और अकल्पनीय रूप से क्रूरतापूर्ण है।’
COPYRIGHT @ 2018 SWADESH. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS