ब्रेकिंग न्यूज़
शांति, सहिष्णुता, आतंकवाद और जलवायु परिवर्तन के लिए महात्मा गांधी बेहद प्रासंगिक: कोविंदआईएनएक्स मीडिया: चिदंबरम को आंशिक राहत,ईडी की गिरफ्तारी पर 26 तक रोकघाटी के बदलते हालातों में खत्म हुआ अलगाववादियों के फतवों का डररतलाम में सडक़ किनारे खड़े ट्रक में घुसी जीप, एक ही परिवार के 3 लोगों की मौतपूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने राजस्थान से राज्यसभा सदस्य के रूप में ली शपथराजौरी में पाक की गोलीबारी में गोरखा रेजिमेंट का जवान शहीदअयोध्या विवादित ढांचा ढहाने के मामले की सुनवाई कर रहे स्पेशल जज ने मांगी पुलिस सुरक्षाबिहार के बाहुबली विधायक अनंत सिंह ने दिल्ली के साकेत कोर्ट में किया समर्पण
बिज़नेस
जेट एयरवेज से जुड़े मुद्दों की समीक्षा करें विमानन सचिव: सुरेश प्रभु
By Swadesh | Publish Date: 16/4/2019 5:59:40 PM
जेट एयरवेज से जुड़े मुद्दों की समीक्षा करें विमानन सचिव: सुरेश प्रभु

नई दिल्ली। नागर विमानन मंत्री सुरेश प्रभु ने विमानन सचिव को निर्देश दिया कि वित्तीय संकट से जूझ रही निजी विमान सेवा कंपनी जेट एयरवेज से जुड़े मुद्दों की समीक्षा करें। केंद्रीय मंत्री सुरेश प्रभु ने आज ट्वीट कर विमानन सचिव प्रदीप सिंह खारोला को उड़ान की कीमतों में इजाफा, उड़ानों के रद्द होने और जेट एयरवेज से जुड़े मुद्दों की समीक्षा का निर्देश दिया है।

 
मंत्री ने सभी से यात्रियों के हित में काम करने का आह्वान किया है। जेट ऐयरवेज की माली हालात और किरायों को काबू में रखने के लिए एविएशन मंत्री ने सेक्रेटरी से जरूरी कदम उठाने का आदेश दिया है। इस समय जेट एयरवेज के बमुश्किल पांच एयरक्राफ्ट उड़ रहे हैं। इसके अलावा उसने अंतराष्ट्रीय परिचालन को भी अस्थायी तौर पर निलंबित कर दिया है। इस कारण एविएशन सेक्टर में सप्लाई या फिर फ्लाइट ऑप्शन के लिहाज से जबरदस्त गिरावट आई है।
 
उल्लेखनीय है कि जेट के संकट में घिरने से एविएशन सेक्टर में डिमांड और सप्लाई का गणित लड़खड़ा गया है। यही कारण है कि कुछ दिन पहले जहां अंतर्राष्ट्रीय रूट के हवाई किराये बेकाबू हो गए थे, वहीं अब घरेलू उड़ानों के किराये भी कई गुना बढ़ गए है। सोमवार को दिल्ली मुंबई रूट का किराया 60 हजार रूपये तक पहुंच गया था।
COPYRIGHT @ 2018 SWADESH. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS