छत्तीसगढ़
आदर्श गौठान मानिकपुर में ग्रामीणों को मिल रहा है रोजगार
By Swadesh | Publish Date: 3/7/2019 5:57:06 PM
आदर्श गौठान मानिकपुर में ग्रामीणों को मिल रहा है रोजगार

कांकेर। छत्तीसगढ़ शासन की महत्वाकांक्षी योजना नरवा, गरूवा, घुरवा और बाड़ी योजना अंतर्गत गरूवा कार्यक्रम के तहत कांकेर जिले के विकासखण्ड नरहरपुर के ग्राम मानिकपुर में मॉडल गौठान का निर्माण किया गया है। गौठान का निर्माण 3.5 एकड़ में किया गया है, जिसमें से 3 एकड़ भूमि में चारागाह का विकास किया जा रहा है। ग्राम में कुल पशुओं की संख्या 284 है। तालाब भी बनाया गया है, जो चारागाह से लगा हुआ है। गौठान के चारों ओर सी.पी.टी. और भूमि समतलीकरण का कार्य मनरेगा के माध्यम से किया जा रहा है, जिससे ग्रामीणों को रोजगार भी मिल रहा है। 

गौठान निर्माण के कार्यों में ग्रामीण महिलाओं का विशेष योगदान है। महिला स्व-सहायता समूह की महिलाएं घुरवा अंतर्गत खाद, इलेक्ट्रिक पोल, चारा निर्माण कार्य में लगी हैं, जिससे उन्हें आय की प्राप्ति भी हो रही है। चारागाह में 3 एकड़ भूमि में नेपियर घास लगाया गया है। गौठान में टीकाकरण, उपचार, दवा वितरण कृमि नाशक दवापान, कृत्रिम गर्भाधान का कार्य भी किया जा रहा है।
 
पशु चिकित्सा सेवायें के उप संचालक नरेन्‍द्र श्रीवास्‍तव ने बताया कि शासन की महत्वाकांक्षी योजना से मॉडल गौठान में हरा चारा, पानी की व्यवस्था की गई है। एक ही जगह पर पूरे पशुओं के रखने पर गोबर खाद की उपलब्धता अधिक मात्रा में होगी। जिनके घर में पर्याप्त पशु रखने की जगह नहीं है, उनके पशु आवारा की तरह नहीं घूमेंगी, इसके लिए काफी सुविधा होगी। गोबर, खाद, जैविक खाद की उपयोगिता से रासायनिक खाद की खरीदी कम होगी, इसमें ग्रामीणों को लाभ होगा । 
 
गौमूत्र से कीटनाशक बनाने पर बाजार में कीटनाशक खरीदी कम होगी एवं पैसे की बचत होगी। किसानों के समग्र विकास एवं ग्रामीण अर्थव्यवस्था को सुदृृढ़ बनाने के उद्देश्य से यह कार्य प्रारंभ किया गया है जिससे ग्राम की तस्वीर बदलेगी।
COPYRIGHT @ 2018 SWADESH. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS