छत्तीसगढ़
छत्‍तीसगढ़ विधानसभा : उद्योगों में श्रमिकों की मृत्यु का मामला सदन में गूंजा
By Swadesh | Publish Date: 16/7/2019 4:12:03 PM
छत्‍तीसगढ़ विधानसभा : उद्योगों में श्रमिकों की मृत्यु का मामला सदन में गूंजा

रायपुर। छत्तीसगढ़ विधानसभा मानसून सत्र के तीसरे दिन मंगलवार को कार्यवाही शुरू हो गई। सदन में नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने उद्योगों में हुई दुर्घटनाओं में श्रमिकों की मृत्यु पर प्रश्‍न उठाया।

उन्होंने कहा कि दिसम्बर 2018 से 20 जून 2019 के मध्य विभिन्न उद्योगों में हुई दुर्घटनाओं में कुल कितने श्रमिकों की मौत हुई है। इस पर जवाब देते हुए श्रम मंत्री शिव डहरिया ने बताया कि कुल 45 श्रमिकों की मौत हुई है। इनमें से 39 मजदूर ईएसआईसी में बीमित थे। वहीं एक अधिकारी स्तर का पर्सनल बीमा, एक श्रमायुक्त से मुआवजा और चार लोगों के आश्रितों पर मुआवजा प्रक्रियाधीन है। उद्योगों में विस्फोटकों की बात को लेकर मंत्री डहरिया ने कहा कि उद्योगों में विस्फोटक नहीं होते है, विस्फोटक खदानों में उपयोग किये जाते हैं।
 
इस बात पर भाजपा विधायक अजय चंद्राकर ने आपत्ति जताई और कहा कि विस्फोटक उद्योगों में भी उपयोग किये जाते हैं। इसके बाद मंत्री डहरिया और चंद्राकर में तीखी नोंक -झोंक शुरु हो गई। दोनों ओर से कई विधायक भी इसमें शामिल हो गए। हंगामेबाजी में किसी की बाते नहीं सुनी जा पा रही थी। अध्‍यक्ष चरण दस महंत के हस्तक्षेप के बाद दोनों पक्षों को शांत कराया गया।
COPYRIGHT @ 2018 SWADESH. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS