Ad
ब्रेकिंग न्यूज़
पीएमओ प्रवक्ता जगदीश ठक्कर का निधन, प्रधानमंत्री ने परिजनों से मुलाकात कर जताया शोकशिक्षा ही अच्छे व्यक्ति व समाज के निर्माण की आधारशिला-राष्ट्रपति कोविंदसुप्रीम कोर्ट ने केरल के 'लव जिहाद' मामले में एनआईए की रिपोर्ट लौटाईअन्याय, भेदभाव के खिलाफ आवाज उठाती रहेगी एनएपीएम : ऊषाजम्मू एवं कश्मीर विस को भंग करने के राज्यपाल के फैसले को चुनौती देने वाली याचिका खारिजनिजामुद्दीन दरगाह के गर्भगृह में प्रवेश की अनुमति देने संबंधी याचिका पर नोटिसनिजामुद्दीन दरगाह के गर्भगृह में प्रवेश की अनुमति देने संबंधी याचिका पर नोटिसलोकपाल के सेलेक्शन पैनल में विपक्ष के नेता को शामिल करने के लिए याचिका
छत्तीसगढ़
देश की पहली ट्रांस क्वीन बनीं वीणा सेंद्रे, बोलीं- यह पूरे समुदाय की जीत है
By Swadesh | Publish Date: 8/10/2018 4:57:28 PM
देश की पहली ट्रांस क्वीन बनीं वीणा सेंद्रे, बोलीं- यह पूरे समुदाय की जीत है

नई दिल्ली। छत्तीसगढ़ की रहने वाली वीणा सेंद्रे ने पहला ट्रांस ब्यूटी क्वीन का खिताब अपने नाम कर लिया है। वीणा ने यह खिताब जीतते हुए देश की पहली ट्रांस ब्यूटी क्वीन बन गई हैं। 

 
खबरों मुताबिक वीणा ने तमिलनाडू की नमिता अम्मू को दो राउंड में शिकस्त देते हुए यह खिताब अपने नाम किया है। मुंबई में आयोजित हुई इस प्रतियोगिता में जहां सान्या सूद फर्स्ट रनर अप रहीं तो वहीं नमिता अम्मू सेकेंड रनर अप मिस ट्रांसक्वीन 2018 बनीं। वीणा रायपुर के मंदिर हसौद की रहने वाली हैं और वह इसके पहले मिस रायपुर का खिताब अपने नाम कर चुकी हैं। 
 
 
देश की पहली मिस ट्रांस ब्यूटी क्वीन बनने पर खुश वीणा ने लोगों को शुक्रिया बोलते हुए कहा कि यह सिर्फ उनकी नहीं बल्कि पूरे ट्रांस समुदाय की जीत है। यह खिताब अपने नाम करने के बाद वह बेहद खुश हैं। देश में पहली बार ट्रांसजेंडर्स के लिए इस तरह की प्रतियोगिता का आयोजन किया गया है और इसमें जीत हासिल करने पर वह बेहद खुश और गौरवान्वित महसूस कर रही हैं। 
 
मिस ट्रांस ब्यूटी क्वीन 2018 का खिताब अपने नाम करने के बाद खुश वीणा ने बताया कि वह बचपन से ही एक सामान्य जीवन की आशा रखती थीं, स्कूल के समय से ही वह अन्य बच्चों की तुलना में खुद को अलग महसूस करती थीं। जिसके चलते स्कूल के बच्चे न तो उनसे बात करते थे और उनका मजाक भी उड़ाते थे। बच्चों के इस तरह से मजाक उड़ाने पर पहले तो काफी बुरा महसूस होता था, लेकिन बाद में इन सब बातों से ध्यान हटाकर पढ़ाई पर ध्यान देना शुरू किया।
COPYRIGHT @ 2018 SWADESH. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS