छत्तीसगढ़
महानदी भवन में 26 नवम्बर को मनाया जाएगा संविधान दिवस
By Swadesh | Publish Date: 23/11/2018 12:35:20 PM
महानदी भवन में 26 नवम्बर को मनाया जाएगा संविधान दिवस

रायपुर। केन्द्रीय सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय से प्राप्त निर्देशों के अनुरूप यहां प्रदेश सरकार के मंत्रालय (महानदी भवन) में सोमवार 26 नवम्बर को संविधान दिवस मनाया जाएगा। इस अवसर पर सुबह 11 बजे मंत्रालय के पिरामिड गेट नम्बर 'बी' में सभी विभागों के अधिकारी और कर्मचारी भारत के संविधान की प्रस्तावना को सामूहिक रूप से पढ़ेंगे। मुख्य सचिव अजय सिंह उन्हें संविधान की प्रस्तावना का पठन करवाएंगे। इस सिलसिले में सामान्य प्रशासन विभाग ने यहां मंत्रालय (महानदी भवन) से समस्त विभागों के अपर मुख्य सचिवों, प्रमुख सचिवों, सचिवों और विशेष सचिवों को परिपत्र जारी किया है। परिपत्र में मंत्रालय के प्रत्येक विभाग के अधिकारियों और कर्मचारियों को इस कार्यक्रम में सुबह 11 बजे उपस्थित होने के निर्देश दिए गए हैं। 
 
सबसे बड़ा संव‍ि‍धान
भारत के संविधान न‍िर्माता के रूप में डॉ भीमराव अाम्बेडकर को जाना जाता है। इन्‍होंने भारतीय संव‍िधान के रूप में दुन‍िया का सबसे बड़ा संव‍ि‍धान तैयार क‍िया है। यह हस्‍तल‍िखि‍त संव‍िधान है।
 
दो साल से ज्‍यादा
भारतीय संव‍िधान में 448 अनुच्छेद, 12 अनुसूचियां और 94 संसोधन शामिल हैं। इसके अलावा इसमें 48 आर्टिकल हैं। संविधान को तैयार करने में दो साल 11 महीने और 17 दिन लगे थे।
 
26 नवम्बर 1949
26 नवम्बर 1949 के द‍िन देश में भारतीय संविधान सभा द्वारा पारि‍त क‍िया गया। इसके ठीक एक साल बाद यह 26 नवम्बर 1950 को लोकतांत्रिक सरकार प्रणाली के साथ लागू हुआ।
 
समान अध‍िकार
भारतीय संविधान में साफ है क‍ि भारत सब धर्मों को मानने वाला देश है। इसका कोई आधिकारिक धर्म नहीं है और न क‍िसी एक धर्म को बढ़ावा देना इसका लक्ष्‍य है। हर नागर‍िक को समान अध‍िकार है। 
 
उल्लेखनीय है कि लंबे समय से 26 नवम्बर को कानून दिवस के रूप में मनाते आ रहे हैं लेक‍िन 19 नवम्बर 2015 को पीएम नरेंद्र मोदी ने ऐलान कि‍या क‍ि अब यह द‍िन संविधान दिवस के रूप में मनाया जाएगा।
COPYRIGHT @ 2018 SWADESH. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS