Ad
छत्तीसगढ़
प्रदेश की पारेषण क्षमता बढ़कर 7470 एम.व्ही.ए. पहुंची
By Swadesh | Publish Date: 5/2/2019 6:09:00 PM
प्रदेश की पारेषण क्षमता बढ़कर 7470 एम.व्ही.ए. पहुंची

कोरबा। छत्तीसगढ़ स्टेट पॉवर ट्रांसमिशन कम्पनी द्वारा राज्य की विद्युत पारेषण प्रणाली के सृदृढ़ीकरण के फलस्वरूप प्रदेश की पारेषण क्षमता 1350 एमव्हीए. से बढ़कर 7470 एमव्हीए. हो गई है। पारेषण कंपनी द्वारा अति उच्चदाब उपकेन्द्रों की स्थापना एवं लाइनों के विस्तार के कार्य में तेजी लाई गई है। इससे प्रदेश के सूदुर ग्रामीण-आदिवासी बाहूल्य क्षेत्रो में निवासरत उपभोक्ताओं को सतत एवं गुणवत्तापूर्ण विद्युत आपूर्ति हो रही है। 

 
उक्त जानकारी पॉवर कंपनी के अति.महाप्रबंधक (जनसंपर्क) विजय मिश्रा ने दी। पारेषण कंपनी द्वारा राज्य शासन की ‘‘पॉवर फार ऑल‘‘ योजना को साकार करने के लिए प्रदेश की पारेषण प्रणाली को उन्नत बनाने हेतु अतिउच्चदाब लाइनों का विस्तार भी चहूं ओर किया जा रहा है। पारेषण कंपनी की प्रबंध निदेशक तृप्ति सिन्हा एवं उनकी टीम के दक्ष इंजीनियर निर्माणाधीन उपकेन्द्रों एवं लाइनों को जल्द से जल्द ऊर्जीकृत करने सतत प्रयासरत है। 
 
प्रदेश की पारेषण प्रणाली को उन्नत बनाने की दिशा में आगे बढ़ते हुए पारेषण कंपनी द्वारा 400 केव्ही. क्षमता का एक उपकेन्द्र कुरूद में, 220 केव्ही. क्षमता के उपकेन्द्र जगदलपुर, नारायणपुर, धरदेही में एवं 132 केव्ही. क्षमता के 2 नये उपकेन्द्रों का निर्माण कार्य उदयपुर एवं बीजापुर में किया जा रहा है। प्रदेश में वर्तमान में अतिउच्चदाब लाइनों के विस्तारीकरण के कार्य में भी ऐतिहासिक वृद्धि की गई है। जिससे लाइनों की लम्बाई बढ़कर 12011 सर्किट किलोमीटर से अधिक जा पहुंची है, जो कि राज्य स्थापना के समय स्थापित 5205 सर्किट किलोमीटर की तुलना में 131 प्रतिषत अधिक है। ऐसी ऐतिहासिक प्रगति को सतत बनाये हुये अति उच्चदाब उपकेन्द्रों की संख्या में भी पारेषण कंपनी द्वारा अभूतपूर्व वृद्धि दर्ज की गई है।
 
इस संबंध में श्री मिश्रा ने बताया कि राज्य स्थापना के समय प्रदेश में अतिउच्चदाब उपकेन्द्रों की संख्या केवल 27 थी। प्रदेश के सूदुर अंचलों तक समुचित वोल्टेज पर विद्युत आपूर्ति करने के लिए बढ़ी संख्या में अति उच्चदाब उपकेन्द्रों की स्थापना की गई, फलस्वरूप वर्तमान में ईएचटी. सबस्टेशन की संख्या बढ़कर 118 हो गई है, जो कि अतिउच्चदाब उपकेन्द्रों की संख्या में 337 प्रतिशत वृद्धि को दर्शाता है। 
 
COPYRIGHT @ 2018 SWADESH. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS