ब्रेकिंग न्यूज़
सोनभद्र जा रही प्रियंका को प्रशासन ने मिर्जापुर में रोकाबाबरी मस्जिद मामला: सुप्रीम कोर्ट ने बढ़ाया ट्रायल कोर्ट के जज का कार्यकालउज्बेकिस्तान में भारतीय राजदूत संतोष ने राष्ट्रपति से की मुलाकातकांग्रेस राज में हुई गड़बड़ी की देन है सोनभद्र नरसंहार की घटना: योगी आदित्यनाथउप्र विधानसभा: मुख्यमंत्री बोलते रहे, विपक्षी बेल में पहुंचकर नारेबाजी करते रहे, विधानसभा स्थगितरोज वैली चिटफंड घोटाला मामले में अभिनेता प्रसनजीत से पूछताछचांद तारा के निशान वाले हरे रंग के झंडे पर दो हफ्ते में जवाब दे केन्द्रप्रधानमंत्री ने लाल किले पर स्वतंत्रता दिवस भाषण के लिए जनता से मांगे सुझाव
छत्तीसगढ़
ममता लोकतंत्र की हत्या पर आमादा: डॉ. रमन
By Swadesh | Publish Date: 15/5/2019 2:29:11 PM
ममता लोकतंत्र की हत्या पर आमादा: डॉ. रमन

रायपुर। भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एवं छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने पार्टी अध्यक्ष अमित शाह के रोड शो में पश्चिम बंगाल में कोलकाता यूनिवर्सिटी के पास हुए बर्बर लाठीचार्ज एवं हिंसा की कड़ी निंदा करते हुए कहा है कि पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी अपना जनाधार खिसकते देख इस तरह बौखला गई हैं कि वह लोकतंत्र की हत्या करने पर आमादा हैं।

 
डॉ. रमन सिंह ने कहा कि ममता बनर्जी को लोकतांत्रिक व्यवस्था में कोई विश्वास नहीं है और वे देश के हितों से खिलवाड़ करते हुए केवल अपने राजनीतिक स्वार्थ के लिए बांग्लादेशी घुसपैठियों की संरक्षक बनी हुई है। जब उन्हें महसूस हो गया कि पश्चिम बंगाल की जनता इस लोकसभा चुनाव में उन्हें खारिज कर रही है और आने वाले समय में पश्चिम बंगाल की सत्ता से भी उनका बाहर होना तय हो चुका है तो वह तृणमूल कांग्रेस के गुंडों को अपने राज्य की पुलिस के संरक्षण में तांडव मचाने के लिए तैनात कर चुकी हैं। पश्चिम बंगाल में टीएमसी के गुंडे पोलिंग बूथों पर कब्जा कर रहे हैं और ममता की पुलिस उनके इशारों पर इस काम को अंजाम दिलवा रही है।
 
डॉक्टर सिंह ने कहा कि पश्चिम बंगाल में जिस तरह के हालात लोकसभा चुनाव के दौरान सामने आए हैं, उससे स्पष्ट हो चुका है कि ममता बनर्जी भारत और भारतीय संविधान के साथ ही भारतीय लोकतंत्र के मूल्यों के प्रति कोई आस्था, निष्ठा अथवा विश्वास नहीं रखती। डॉक्टर सिंह ने कहा कि ममता बनर्जी लोकतंत्र के सबसे बड़े त्यौहार में जिस तरह अराजक तत्वों के माध्यम से खलल पैदा करवा रही हैं। 
 
उससे साफ है कि वह सिर्फ गुंडाराज के बल पर राजनीति में स्थापित रहना चाहती हैं लेकिन जनता उन्हें हर हाल में उस स्थिति में पहुंचा देगी, जिसकी वह हकदार हैं। 
COPYRIGHT @ 2018 SWADESH. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS