Ad
ब्रेकिंग न्यूज़
मनोरंजन
नहीं चला सलमान का जादू, 'लवरात्रि' पर भारी पड़ी आयुष्मान की 'अंधाधुन'
By Swadesh | Publish Date: 7/10/2018 5:55:07 PM
नहीं चला सलमान का जादू, 'लवरात्रि' पर भारी पड़ी आयुष्मान की 'अंधाधुन'

नई दिल्ली। फिल्म 'लवरात्री' से सलमान खान के बहनोई आयुष शर्मा ने बॉलीवुड में डेब्यू किया है। 'लवरात्रि' के रिलीज होने पहले सलमान खान ने अपने बहनोई के लिए इस फिल्म का जमकर प्रमोशन करते नजर आए, लेकिन सलमान खान द्वारा निर्मित और अभिराज मिनावाला द्वारा निर्देशित इस फिल्म ने रिलीज के पहले दिन बॉक्स ऑफिस पर कोई कमाल दिखाने में असफल साबित हुई है। बॉक्स ऑफिस इंडिया के मुताबिक फिल्म 'लवयात्री' ने अपने ओपनिंग डे पर लगभग 1.75 से 2 करोड़ के बीच की कमाई की है। जिससे साफ पता चलता है कि इस फिल्म के लिए दर्शकों पर सलमान का कोई जादू नहीं चल पाया है। 

 
 
वहीं, दूसरी और आयुष्मान खुराना, तब्बू और राधिका आप्टे की फिल्म 'अंधाधुन' का भी बॉक्स ऑफिस पर पहले दिन कोई खास असर नहीं देखने को मिला, लेकिन इस फिल्म ने अपने ओपनिंग डे पर कमाई के मामले में 'लवरात्री' को जरूर पीछे छोड़ डाला है। जी हां, बॉक्स ऑफिस इंडिया के मुताबिक ओपनिंग डे पर फिल्म ने 2.25 से 2.50 करोड़ के बीच की कमाई की है। 'अंधाधुन' के तीनों ही कलाकार फिल्म में जबरदस्त अंदाज में नजर आए हैं और कलाकारों की एक्टिंग को खूब पसंद भी किया जा रहा है। फिल्म में आयुष्मान खुराना पियानो टीचर की भूमिका में हैं, जो देखने में सक्षम नहीं हैं यानी वे एक दिव्यांग का रोल प्ले कर रहे हैं। वहीं, तब्बू भी बड़े ही सस्पेंस रोल में नजर आ रही हैं।
 
 
बता दें, सलमान खान फिल्म्स के बैनर तले बनी फिल्म 'लवरात्रि' में आयुष शर्मा के साथ इस फिल्म में वरीना हुसैन, रोनित रॉय, राम कपूर और अरबाज खान मुख्य भूमिकाओं में हैं। गुजरात की पृष्ठभूमि पर आधारित 'लवरात्रि' की कहानी प्यार के इर्दगिर्द घूमती है। हाल ही में एक इंटरव्यू में आयुष ने कहा था कि बहुत सारे निर्माताओं और निर्देशकों को उनके साथ काम करने में डर लगता था। हर कोई उनसे कहता था, ‘‘हम आपको लॉन्च करना पसंद करेंगे, लेकिन यदि कुछ गलत हो जाता है तो सलमान से हमारा रिश्ता खराब हो जाएगा। इसलिए हम नहीं कर पाएंगे।’’ उन्होंने यह भी बताया, ‘‘...ऐसे बहुत से लोग भी थे जिन्होंने मुझे फिल्म की पेशकश की लेकिन मैं उनको लेकर निश्चित नहीं था। मेरा सबसे बड़ा संघर्ष अपना नाम स्थापित करना और अपनी पहचान बनाना था।’’
COPYRIGHT @ 2018 SWADESH. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS