विदेश
ट्रेड वॉर का असर, 27 साल के निचले स्तर पर पहुंची चीन की जीडीपी
By Swadesh | Publish Date: 18/10/2019 7:10:34 PM
ट्रेड वॉर का असर, 27 साल के निचले स्तर पर पहुंची चीन की जीडीपी

ट्रेड वॉर के चलते चीन की इकॉनमी की रफ्तार 27 साल के निचले स्तर पर पहुंच गई है
घरेलू मांग में सुस्ती और ट्रेड वॉर से इस तिमाही में विकास दर 6 प्रतिशत रही
इससे पहले 1992 में इतना खराब आंकड़ा रहा था, चीन का विकास दर अनुमान भी 6-6.5 है
चीन में घरेलू मांग के साथ ऑटोमोबाइल सेक्टर और रोजगारों में भी गिरावट देखी गई

पेइचिंग. अमेरिका के साथ चल रहे ट्रेड वॉर का असर चीन की जीडीपी पर साफ दिखाई देने लगा है । मौजूदा वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही में चीन की जीडीपी ग्रोथ की रफ्तार काफी कम रही। ट्रेड वॉर और घरेलू स्तर पर मांग में सुस्ती के कारण पिछले 27 सालों में पहली बार चीन की जीडीपी ग्रोथ की रफ्तार (6.0 फीसदी) इतनी कम रही।
शुक्रवार को जारी किए गए जीडीपी के आंकड़ों के मुताबिक, जुलाई से सितंबर तिमाही में चीन की जीडीपी ग्रोथ 6 फीसदी की रफ्तार से बढ़ी, जबकि दूसरी तिमाही के दौरान यह आंकड़ा 6.2 पर्सेंट का था । 1992 के बाद पहली बार किसी तिमाही के लिए जीडीपी का यह सबसे खराब आंकड़ा है । हालांकि पूरे वित्त वर्ष के लिए चीन का अनुमान 6.0-6.5 पर्सेंट का है।
आंकड़े जाहिर करते हुए चीन के नैशनल ब्यूरो ऑफ स्टैटिस्टिक्स के प्रवक्ता माओ शेंगयॉन्ग ने कहा, 'देश घरेलू और वैश्विक, दोनों स्तरों पर चुनौतियों का सामना कर रहा था।' उन्होंने आगे कहा, 'हालांकि चीन की इकॉनमी ने स्थिरता बरकरार रखी है और लिविंग स्टैंडर्ड में सुधार हुआ है।'
चीन की अर्थव्यवस्था को अमेरिका की शुल्क वृद्धि का खामियाजा भुगतना पड़ा और तकनीकीय योजनाओं को भी धक्का लगा है। चीन सरकार के वार्षिक वृद्धि के टारगेट के मुकाबले विकास दर बहुत धीमी गति से आगे बढ़ी । 2018 में इस तिमाही में चीन की विकास दर 6.6 फीसदी थी । चीन के साथ व्यापार करने वालों की नजरें ट्रेड वॉर पर टिकी हुई हैं। इस ट्रेड वॉर की वजह से मंदी का डर भी बना हुआ है।
सिंगापुर के इकनॉमिस्ट हो वो चेन ने कहा, 'अमेरिका और चीन के ट्रेड अग्रमेंट को लेकर अब भी अनिश्चितताएं हैं । मुझे लगता है कि 15 दिसंबर को लागू होने वाले शुल्क 2020 की अर्थव्यवस्था पर बड़ा असर डालेंगे।' पिछले कुछ महीनों में घरेलू और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मांग में कमी आई है। अमेरिका के राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप ने कहा था कि वह चीन के साथ अग्रीमेंट के करीब हैं लेकिन अधिकारियों का कहना है कि अभी इसमें काफी कसर बाकी है।
चीन में लगातार 15वें महीने ऑटोमोबाइल सेल में गिरावट देखी गई। इसके अलावा शिपमेंट, फैक्ट्री पावर जनरेशन, रोजगार और मनोरंजन पर होने वाले खर्च में भी कमी आई। आईएमएफ भी अमेरिका-चीन ट्रेड वॉर के बारे में बात करते हुए 2019 की विकास दर को कम किया था जो कि 2008-09 की तरह ही है जब वैश्विक मंदी आई थी। चीन इससे निपटने की कोशिश कर रहा है और खरबों यूआन टैक्स कट में खर्च कर रहा है।

COPYRIGHT @ 2018 SWADESH. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS