Ad
ब्रेकिंग न्यूज़
चुनावी शंखनाद के बाद फिर 27-28 सितंबर को मध्य प्रदेश आएंगे राहुलपदमा शुक्ला हुई बागी, भाजपा का साथ छोड़ थामा कांग्रेस का हाथUN ग्लोबल मीडिया कॉम्पैक्ट में भारत का सूचना प्रसारण मंत्रालय शामिलकांग्रेस का वित्त मंत्री पर पलटवार, 'मोदी सल्तनत के दरबारी विदूषक' बनने को बेताब हैं अरुण जेटलीजम्मू कश्मीर : नियंत्रण रेखा के पास सुरक्षाबलों का आतंक निरोधक अभियान, 3 आतंकियों को किया ढेरपश्चिम बंगाल में एक और हादसा, दक्षिण 24 परगना जिले में गिरा निर्माणाधीन पुलशिवराज सरकार में मंत्री दर्जा प्राप्त पदमा शुक्ला ने छोड़ी पार्टी, भाजपा में मचा हड़कंपअब क्षेत्रीय ग्रामीण बैंकों का भी होगा एकीकरण, संख्या घटकर होगी 36
विदेश
थाईलैंड गुफा: बचाव अभियान के लिए गुफा के आसपास का क्षेत्र कराया गया खाली
By Swadesh | Publish Date: 8/7/2018 12:43:43 PM
थाईलैंड गुफा: बचाव अभियान के लिए गुफा के आसपास का क्षेत्र कराया गया खाली

चियांग राई: थाईलैंड के उत्तरी प्रांत चियांग राई के आसमान पर मंडराते मानसून के बादलों को देखते हुए प्रशासन ने गुफा में फंसे जुनियर फुटबॉल टीम के सदस्य 12 बच्चों और उनके कोच को बचाने एवं ‘बचाव अभियान’ चलाने के लिए आज गुफा के आसपास के क्षेत्र को खाली कर देने की घोषणा की। पुलिस कमांडर कोमसन सा-अर्दलुआन ने लाउड स्पीकर पर घोषणा की, परिस्थिति को देखते हुए बचाव अभियान चलाने के लिए क्षेत्र का खाली कराना आवश्यक है जो भी व्यक्ति बचाव अभियान का हिस्सा नहीं हैं कृपा तुरंत क्षेत्र को खाली कर दें। इसके बाद गुफा के बाहर प्रवेश द्वार के आसपास भारी संख्या में मौजूद मीडिया कर्मी अपने उपकरणों की पैक करके पहाड़ से नीचे उतरने लगे।
 
बचाव अभियान दल की यह घोषणा मानसून के काले मंडराते बादलों को देखते हुए आई है। मानसून की इस बारिश से गुफा में फंसी जिंदगियों पर मंडरा रहा खतरा भी बढ़ गया है। मौसम विभाग ने रविवार और सोमवार को तेज बारिश का अनुमान जताया है। बचाव अभियान के प्रमुख चियांग राई के पूर्व गर्वनर नारोंगसक ओसातानाकोर्न ने मीडियो को संबोधित करते हुए कहा कि बचाव अभियान में जुटे बचाव कर्मियों की ‘पानी और समय’ के साथ जंग जारी है। फिलहाल अगले तीन-चार दिन के भीतर बच्चों को किसी तरह बाहर निकालने का ही विकल्प सबसे बेहतर दिखायी दे रहा है। बचावकर्मी पहाड़ के ऊपर से गुफा तक पहुंचने के सभी वैकल्पिक मार्गों को तलाशने में जुटे हुए हैं।
 
उन्होंने कहा कि बचाव अभियान में जुटी थाईलैंड की नौसेना, सेना, पुलिस और कई देशों के टीम दिन-रात गुफा से बारिश का पानी निकालकर जलस्तर कम करने में लगी थी लेकिन शनिवार को भारी बारिश होने से उनकी कोशिशों पर पानी फिर गया। यह बचाव अभियान के लिए एक झटका है। गुफा में आक्सीजन का स्तर गिरता जा रहा है और भारी बारिश के मौसम अनुमान के बाद बच्चों को गुफा से सकुशल निकालने के लिए बहुत कम समय बचा है। गुफा में फंसे फुटबॉल टीम के सदस्य बच्चों की आयु 11 से 16 बीच है। ये सभी तैरना नहीं जानते। गुफा के तंग, गहरे और कीचड़ भरे रास्ते अनुभवी गुफा विशेषज्ञों के लिए भी चुनौती हैं। प्रशासन के अनुसार बचाव अभियान के दौरान शनिवार को एक वाहन चालक समेत चार स्वयंसेवकों के घायल होने की भी जानकारी मिली है। गौरतलब है कि बचाव अभियान के दौरान थाईलैंड के गोताखोर की मौत हो चुकी है।
COPYRIGHT @ 2018 SWADESH. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS