विदेश
पाकिस्तान में मारा गया तालिबान का 'गॉड फादर' समीउल हक, चाकू घोंपकर हुई हत्या
By Swadesh | Publish Date: 3/11/2018 11:23:35 AM
पाकिस्तान में मारा गया तालिबान का 'गॉड फादर' समीउल हक, चाकू घोंपकर हुई हत्या

इस्लामाबाद। तालिबान के गॉडफादर माने जाने वाले प्रमुख पाकिस्तानी धर्म गुरू मौलाना समीउल हक की शुक्रवार को रावलपिंडी में उनके घर में चाकू घोंपकर हत्या कर दी गई। यह जानकारी उनके परिवार ने दी। 82 वर्षीय हक खैबर पख्तूनख्वा के अकोरा खट्टक शहर में इस्लामी मदरसे दारुल उलूम हक्कानिया के प्रमुख और कट्टरपंथी राजनीतिक पार्टी जमियत उलेमा-ए-इस्लाम-सामी (जेयूआई-एस) के अध्यक्ष थे।

 
जिओ न्यूज ने उनके बेटे मौलाना हमीदुल हक के हवाले से कहा कि अज्ञात हमलावारों ने समीउल हक की उस समय हत्या कर दी जब वह अपने कमरे में आराम कर रहे थे। हमीदुल ने कहा कि उनके पिता का निजी सुरक्षाकर्मी बाजार गया हुआ था। जब वह लौटा तो उसने समीउल को खून से लथपथ देखा।
 
जेयूआई-एस के पेशावर अध्यक्ष ने भी रावलपिंडी में हमले में हक की मौत की पुष्टि की है। शुरू में इस बारे में विरोधाभासी खबरें थीं कि हक की हत्या किस तरह से हुई। पाकिस्तान के कुछ मीडिया संगठनों ने कहा था कि वह बंदूक हमले में मारे गए. बाद में हक के बेटे ने स्पष्ट किया है कि धर्मगुरु चाकू हमले में मारे गए।
 
समीउल हक पहली बार 1985 में पहली बार सीनेटर चुने गए थे। उसके बाद वे 1991 में भी सीनेटर चुने गए। पाकिस्तान में इमरान खान के सत्ता में आने के बाद उन्होंने कहा था कि वे उनके साथ मिलकर काम करना चाहते हैं। पिछले दिनों अफगानिस्तान का उच्चस्तरीय प्रतिनिधिमंडल खैबर पख्तूनख्वा में उनसे मुलाकात की थी। प्रतिनिधिमंडल ने उनसे अपील की थी कि वे तालिबान के अलग-अलग ग्रुप से बात करें, क्योंकि उन्हें फादर ऑफ तालिबान कहा जाता है।
COPYRIGHT @ 2018 SWADESH. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS