Ad
विदेश
'दीवार' पर ज़ोर देने के लिए भारतीय मूल के पुलिस अधिकारी की हत्या का ज़िक्र किया डोनाल्ड ट्रंप ने
By Swadesh | Publish Date: 9/1/2019 5:24:47 PM
'दीवार' पर ज़ोर देने के लिए भारतीय मूल के पुलिस अधिकारी की हत्या का ज़िक्र किया डोनाल्ड ट्रंप ने

 वाशिंगटन: अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने सीमा पर दीवार खड़ी करने की अपनी कवायद को आगे बढ़ाते हुए ओवल ऑफिस से पहली बार टेलीविज़न पर राष्ट्र को संबोधित करते हुए कैलिफोर्निया में हुए भारतीय-अमेरिकी पुलिस अधिकारी की गैरकानूनी प्रवासी द्वारा की गई हत्या का ज़िक्र किया, और देश को सुरक्षित रखने के लिए मैक्सिको की सीमा पर बनाई जाने वाली दीवार के फंड के लिए 5.7 अरब अमेरिकी डॉलर की मांग की. डोनाल्ड ट्रंप ने सीमा की स्थिति को 'बढ़ता संकट' करार दिया, जो करोड़ों अमेरिकियों को तकलीफ दे रहा है.

क्रिसमस के अगले दिन भारतीय मूल के 33-वर्षीय पुलिस अधिकारी कॉरपोरल रोनिल 'रॉन' सिंह की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी, और हत्या करने वाला गैरकानूनी ढंग से अमेरिका में घुसा गुस्तावोम पेरेज़ अरियागा था, जो अपने देश मैक्सिको लौटने की फिराक में था.
अमेरिकी के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने राष्ट्रीय आपातकाल घोषित करने की चेतावनी दी
डोनाल्ड ट्रंप ने अपने संदेश में कहा, "क्रिसमस के अगले दिन अमेरिका का दिल टूट गया था, जब एक युवा पुलिस अधिकारी की कैलिफोर्निया में एक गैरकानूनी प्रवासी द्वारा बेरहमी से हत्या कर दी गई थी, जो सीमा पार से आया था... अमेरिका के एक नायक की जान ऐसे शख्स ने चुरा ली, जिसे देश में होने का कोई अधिकार था ही नहीं..."
डोनाल्ड ट्रंप ने अपनी बात पर ज़ोर देने किलए अपने संबोधन में कई ऐसे अपराधों का ज़िक्र किया, जो गैरकानूनी ढंग से अमेरिका में घुसे लोगों द्वारा किए गए थे. उन्होंने कहा, "हमारी दक्षिणी सीमा पर मानवीय तथा सुरक्षा संकट लगातार बढ़ रहा है..."
अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप द्वारा देश को संबोधित किए जाने से कुछ ही घंटे पहले व्हाइट हाउस ने भी एक बयान में कहा था, "हम सीमा सुरक्षा के लिए पर्याप्त कोष दिए बिना अपने देश को सुरक्षित नहीं रख सकते, जिसमें अवरोधक लगाना और कानून प्रवर्तन के लिए अधिक धन देना भी शामिल है..." प्रशासन ने मैक्सिको सीमा पर स्टील अवरोधक लगाने के लिए 5.7 अरब अमेरिकी डॉलर सहित कई प्राथमिकताओं से निपटने के लिए अतिरिक्त कोष की मांग भी की है. इस बीच, व्हाइट हाउस की वरिष्ठ सलाहकार केल्यान कॉनवे ने कहा कि इस मामले में राष्ट्रीय आपातकाल की घोषणा करने पर कोई निर्णय नहीं लिया गया है. 
COPYRIGHT @ 2018 SWADESH. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS