विदेश
भारत और चीन को ईरान से कच्चे तेल खरीदने की छूट खत्म होने की आशंका बढ़ी
By Swadesh | Publish Date: 22/4/2019 3:23:51 PM
भारत और चीन को ईरान से कच्चे तेल खरीदने की छूट खत्म होने की आशंका बढ़ी

लॉस एंजेल्स।  भारत और चीन सहित पांंच देश आने वाले दिनों में ईरान से कच्चा तेल नहीं ख़रीद पाएंंगे। इसके लिए ईरान पर कड़े प्रतिबंध लगाने के इरादे से ट्रम्प प्रशासन इन देशों को विशेष छूट ख़त्म कर रहा है। बताया जाता है कि विदेश मंत्री माइक पोंपियो सोमवार को यह घोषणा कर सकते हैं। 

 
समाचार पत्र न्यू यॉर्क टाइम्स ने अपने ताज़ा अंक में प्रशासन के दो बड़े अधिकारियों के हवाले से कहा है कि यह निर्णय तेहरान की सरकार पर शिकंजा कसने के इरादे से लिया जा रहा है। ईरान पर शिकंजा कसे जाने और तेल की आपूर्ति बंद होने के बाद भारत, चीन, जापान, दक्षिण कोरिया और तुर्की आदि में तेल की क़ीमतों में और वृद्धि होने की आशंकाएंं बढ़ गई हैं। उल्लेखनीय है कि अंरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की क़ीमतें 74 डाॅॅलर प्रति बैरल तक पहुंंच चुकी हैं। 
 
ट्रम्प प्रशासन के इस निर्णय का मकसद ईरान के राजस्व पर अधिकाधिक चोट करना है। इसके साथ ही यह आशंका भी जताई जा रही है कि इससे मध्य पूर्व में अमेरिकी सहयोगी देशों और चीन के बीच व्यापार वार्ता पर असर पड़ सकता है। ऐसी स्थिति में उत्तरी कोरिया की भी नाराजगी बढ़ सकती है।
 
विदित हो कि मई, 2018 में राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने आणविक समझौते से हाथ खींच लिए थे और ईरान पर आर्थिक प्रतिबंधों की झड़ी लगा दी थी। गत नवंबर में अमेरिका ने ईरान पर कड़े प्रतिबंध लगाने की अपनी योजना में भारत और चीन सहित आठ देशों को विशेष छूट दिए जाने का प्रावधान किया था। हालांकि अमेरिका के इस निर्णय के बावजूद ईरान पर कोई असर पड़ेगा, यह कहना मुश्किल है।
COPYRIGHT @ 2018 SWADESH. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS