Ad
जरा हटके
सिक्किम की द्रोपदी घिमिरे ने विकलांगों का जीवन संवारा तो पाया पद्म सम्मान
By Swadesh | Publish Date: 26/1/2019 3:47:16 PM
सिक्किम की द्रोपदी घिमिरे ने विकलांगों का जीवन संवारा तो पाया पद्म सम्मान

घिमिरे की सहायता समिति विकलांगों को नि:शुल्क कृत्रिम हाथ-पैर मुहैया कराने तथा आगजनी के पीड़ितों के लिए प्लास्टिक सर्जरी कराने का काम करती है

गंगटोक। भारत सरकार ने गणतंत्र दिवस के पूर्व संध्या को विभिन्न क्षेत्रों में उल्लेखनीय योगदान पहुंचाने वाले व्यक्तित्वों को पद्मश्री से सम्मानित करने की घोषणा की। देश के चौथे सर्वोच्च नागरिक सम्मान पद्मश्री से सिक्किम की बेटी द्रोपदी घिमिरे भी सम्मानित होने जा रही हैं। सामाजिक कार्यकर्ता एवं सिक्किम विकलांग सहायता समिति की संस्थापक द्रोपदी घिमिरे को इस बार पद्मश्री के लिए चयन किया गया है।
 
विकलांग लोगों के लिए काम करती आ रही द्रोपदी घिमिरे सिक्किम की एक चर्चित सामाजिक कार्यकर्ता हैं| एक गैर सरकारी संस्था सिक्किम विकलांग सहायता समिति के माध्यम से वह शारीरिक रूप से अक्षम लोगों को समाज की मूलधारा में लाने का काम कर रही हैं| विकलांग सहायता समिति विशेष रूप में लोगों को नि:शुल्क कृत्रिम हाथ-पैर मुहैया कराने तथा आगजनी के पीड़ितों के लिए प्लास्टिक सर्जरी कराने का काम करती है। 
 
समिति हर साल राज्य के विभिन्न स्थानों में शिविरों का आयोजन कर संस्था ऐसे लोगों का चयन करती है और उनका उपचार कराती है। आवश्यकता होने पर ऐसे लोगों को राज्य बाहर के विभिन्न अस्पतालों में ले जाकर भी उपचार कराती है। अब तक इस संस्था के जरिये हजारों की संख्या में लोग लाभान्वित हो चुके हैं।
COPYRIGHT @ 2018 SWADESH. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS