ब्रेकिंग न्यूज़
मध्य प्रदेश
नीमच जेल से कैदियों के भागने पर शुरू हुई राजनीति
By Swadesh | Publish Date: 24/6/2019 5:41:54 PM
नीमच जेल से कैदियों के भागने पर शुरू हुई राजनीति

भोपाल। प्रदेश सरकार ने रविवार को नीमच जेल से चार कैदियों की फरारी के मामले की मजिस्ट्रीरियल जांच के आदेश दिए हैं, लेकिन विपक्ष इसको लेकर सरकार को कठघरे में खड़ा कर रहा है। पूर्व मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने इस मामले को लेकर प्रदेश सरकार पर तंज कसा है, जिसका जवाब भी कांग्रेस की ओर से दिया गया है।

नीमच जेल से कैदियों के भाग जाने की घटना को लेकर प्रदेश सरकार पर निशाना साधते हुए पूर्व मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने भोपाल जेल से कैदियों के भागने की घटना का उदाहरण दिया है। सत्तारूढ़ कांग्रेस की ओर से पूर्व मुख्यमंत्री को खंडवा जेल से कैदियों के भाग जाने की याद दिलाई है। पूर्व मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने ट्वीट किया है- हमारी सरकार में कुछ खूंखार अपराधियों ने जेल-ब्रेक कर भागने की कोशिश की थी मित्रों। लेकिन आपको याद होगा कि शासन-प्रशासन की तत्परता से वे ज़्यादा दूर नहीं जा पाए। वैसी ही तत्परता की आशा हम कोंग्रेस की सरकार से भी करते हैं। 
 
उल्लेखनीय है कि भोपाल सेंट्रल जेल से भागे सिमी के आतंकियों को पुलिस ने मुठभेड़ में मार गिराया था। पूर्व मुख्यमंत्री के इस आरोप का जवाब देते हुए प्रदेश कांग्रेस के मीडिया प्रभारी केके मिश्रा ने उन्हें छपास का रोगी बताया है। उन्होंने ट्वीट किया है- शिवराज जी, नीमच में तीन क़ैदियों की फरारी पर भी राजनीति, आपके कार्यकाल में खंडवा जेल से 7 आतंकी जेल फ़ांद फ़रार हुए थे, जिन्हें अन्य राज्यों की पुलिस ने पकड़ा था, क्या उन्हें आपकी सरकार ने भगाया था? लगता है अब कमलनाथ सरकार को आपके “छपास रोग”का इलाज हमीदिया अस्पताल में करवाना पड़ेगा।
COPYRIGHT @ 2018 SWADESH. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS