मध्य प्रदेश
स्वयं भी मतदान करें और दूसरों को भी प्रेरित करें: कमिश्नर
By Swadesh | Publish Date: 24/4/2019 1:36:59 PM
स्वयं भी मतदान करें और दूसरों को भी प्रेरित करें: कमिश्नर

रीवा। लोकसभा निर्वाचन के अंतर्गत मतदाता जागरूकता के उद्देश्य से कमिश्नर एवं एक्सेसिबिलिटी ऑब्जर्वर रीवा संभाग डॉ. अशोक कुमार भार्गव के मुख्य आतिथ्य में बीती रात स्थानीय कृष्णा राजकपूर ऑडिटोरियम में सांस्कृतिक संध्या का आयोजन किया गया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि हम सबके लिए यह सौभाग्य की बात है कि हमारा लोकतंत्र विश्व का सबसे बड़ा लोकतंत्र है। चुनाव लोकतंत्र की आत्मा है और मतदाता लोकतंत्र के प्राण हैं। लोकतंत्र के इस महापर्व में शामिल होकर खुद तो अपने मताधिकार इस्तेमा करें ही, दूसरों को भी मतदान करने के लिए प्रेरित करें। कार्यक्रम में भारत निर्वाचन आयोग के प्रेक्षक एके राकेश, रामलाल वर्मा, त्रिभुवन यादव, जिला निर्वाचन अधिकारी ओमप्रकाश श्रीवास्तव, पुलिस अधीक्षक आबिद खान विशिष्ट अतिथि के रूप में उपस्थित थे।

 
अतिथियों द्वारा दीप प्रज्ज्वलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया। कमिश्नर डॉ. भार्गव ने कहा कि लोकतंत्र में निर्वाचन प्रक्रिया निष्पक्ष, पादरर्शी एवं स्वतंत्र हो तो प्रत्येक व्यक्ति की गरिमा का सम्मान होता है। इसके लिए भारत निर्वाचन आयोग दृढ़ संकल्पित है। जनवरी 1950 में भारत की मतदाता सूची बनकर तैयार हुई। शुरूआत में जागरूकता की कमी के कारण महिलाओं के नाम मतदाता सूची में पूरी तरह से शामिल नहीं हुए थे और कुछ नाम काटे भी गए। इसके बाद महिलाओं के नाम मतदाता जागरूकता के माध्यम से जोड़े गए। एक-एक व्यक्ति की गरिमा एवं सम्मान का ध्यान हमारी लोकतांत्रिक व्यवस्था में रखा गया है। यदि हम मतदान नहीं करेंगे तो राष्ट्र के प्रति हमारा सम्मान नहीं होगा। एक-एक वोट से हार-जीत संभव होती है। 
 
उन्होंने कहा कि हमारे देश में मतदान करने की निर्णायक शक्ति हमें प्रदान की गई है, जिसका हमें अच्छे जनप्रतिनिधि चुनने के लिए उपयोग करना चाहिए। हमारे देश में मतदान करना अनिवार्य नहीं है, बल्कि कर्तव्य है। वहीं दूसरे देशों में मतदान करना अनिवार्य किया गया है। जागरूकता अभियान के माध्यम से हम स्वयं मतदान करें और दूसरों को भी मतदान के लिए प्रेरित करें। स्वतंत्र, निष्पक्ष और निर्भीकता के साथ मतदान करें और किसी प्रलोभन में नहीं आयें। अपनी बुद्धि का उपयोग कर सोच-समझकर मतदान करना चाहिए। राष्ट्र की बागडोर अच्छे हाथों में सौंपने के लिए सोच समझकर मतदान करना जरूरी है। उन्होंने मतदाता जागरूकता के लिए उपस्थित जनसमुदाय को शपथ दिलाई। उन्होंने कहा कि शपथ लेकर इसे निभाने की कोशिश करें और मतदान में बढ़-चढक़र हिस्सा लें। स्वतंत्र, निष्पक्ष और शांतिपूर्ण मतदान में हिस्सा लेकर लोकतंत्र की बुनियाद को मजबूत बनायें।
 
कमिश्नर डॉ. भार्गव ने कहा कि इस बार दिव्यांग मतदाताओं के लिए मतदान करना बेहद आसान होगा। दिव्यांग मतदाताओं को मतदान के लिए भारत निर्वाचन आयोग ने विशेष इंतजाम किए हैं। उन्हें घर से मतदान केन्द्र पर लाने एवं वापस भेजने के लिए नि:शुल्क परिवहन की सुविधा उपलब्ध कराई जायेगी। मतदान केन्द्र पर रैम्प एवं व्हील चेयर की व्यवस्था रहेगी। उन्हें बिना लाइन में लगे सीधे मतदान करने की सुविधा रहेगी। मतदान केन्द्र पर शौचालय, पेयजल, छाया, दिव्यांग मित्र सहित अन्य सुविधाएं उपलब्ध रहेंगी। मतदान केन्द्र पर आयोग द्वारा निर्धारित दस्तावेज पहचान के लिए प्रयोग में लाये जा सकते हैं। उन्होंने कहा कि दिव्यांग मतदाताओं के लिए पीडब्ल्यूडी एप तैयार किया गया है। इसकी सहायता से वे मतदान संबंधी जानकारी ले सकते हैं एवं अपनी समस्या भी दर्ज करा सकते हैं। उन्होंने सी-विजिल एप एवं निर्वाचन के टोल फ्री नम्बर 1950 की भी जानकारी दी।
 
देर रात चले इस कार्यक्रम में स्कूली छात्र-छात्राओं एवं आर्या बैण्ड के कलाकारों ने मनमोहन सांस्कृतिक प्रस्तुतियां देकर लोगों को मतदान के लिए प्रेरित किया। कार्यक्रम में आयुक्त नगर निगम सभाजीत यादव मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत एवं स्वीप गतिविधियों के प्रभारी अधिकारी एच.एच. मीणा, अपर कलेक्टर एवं उप जिला निर्वाचन अधिकारी इला तिवारी, एसडीएम विकास सिंह, मास्टर ट्रेनर अमरजीत सिंह, सहायक नोडल अधिकारी स्वीप आशीष द्विवेदी सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी-कर्मचारी, छात्र-छात्राएं एवं बड़ी संख्या में आमजन मौजूद थे। 
COPYRIGHT @ 2018 SWADESH. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS