मध्य प्रदेश
किसानों के मुद्दों पर बीजेपी सड़कों पर, शिवराज को ये क्या बोल गए जीतू पटवारी
By Swadesh | Publish Date: 4/11/2019 6:25:30 PM
किसानों के मुद्दों पर बीजेपी सड़कों पर, शिवराज को ये क्या बोल गए जीतू पटवारी

- जीतू पटवारी का शिवराज पर हमला; बोले- वे किसानों के दुश्मन, उन्हें चुल्लुभर पानी में डूब जाना चाहिए
- बोले- भाजपा नेता आंदोलन के बजाए अतिवृष्टि और बाढ़ से प्रभावित किसानों को केंद्र से मदद दिलाने में सहयोग करें
- इधर, सरकार के खिलाफ भाजपा का आक्रोश आंदोलन आज, शिवराज रीवा में, राकेश सिंह नरसिंहपुर में करेंगे प्रदर्शन
- मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा कि झूठ और कलाकारी की राजनीति ज्यादा दिन नहीं चलती है


भोपाल. किसानों की कर्जमाफी, प्राकृतिक आपदा से पीड़ित किसानों को मुआवजा देने और बिजली बिलों संबंधी मामलों को लेकर सोमवार को भाजपा कमलनाथ सरकार के खिलाफ पूरे प्रदेश में आंदोलन शुरू हो गया है। वहीं, इस आंदोलन को नौटंकी करार देते हुए उच्च शिक्षा मंत्री जीतू पटवारी ने पूर्व शिवराज सिंह चौहान को घड़ियाली आंसू बहाना बंद करने की सलाह दी है। उन्होंने पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह मीठा बोलते हैं, लेकिन वह किसानों के दुश्मन हैं। उन्हें चुल्लुभर पानी में डूब जाना चाहिए।
झूठ और कलाकारी की राजनीति ज्यादा दिन नहीं चलती
मुख्यमंत्री कमलनाथ ने ट्वीट कर कहा कि भाजपा के प्रदर्शन से प्रदेश के कम से कम दो से ढाई करोड़ लोगों को यह विश्वास हो गया होगा कि भाजपा के नेता कितना झूठ बोलते हैं। वह इसलिए क्योंकि जिन 21 लाख किसानों का कर्जा माफ हुआ है, वो और उनके परिवार वाले को मिलाकर लगभग एक करोड़ का आंकड़ा होता हैं।
15 साल कुछ नहीं किया, अब राजनीति कर रहे
जीतू पटवारी ने भोपाल में मीडिया से बातचीत में कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और भाजपा के अन्य नेताओं ने 15 साल तक सत्ता में रहने के बाद भी किसानों के लिए कुछ नहीं किया। अब विपक्ष में आने पर किसानों के नाम राजनीति कर रहे हैं। भाजपा नेता केंद्र से राहत राशि जानबूझकर नहीं दिलवा रहे हैं, ताकि राज्य के किसानों को राहत नहीं मिले और वह आक्रोशित हों और इसका लाभ भाजपा नेता उठाएं।
केंद्र से राशि दिलाने में मदद करें
पटवारी ने भाजपा नेताओं से कहा कि वे घड़ियाली आंसू बहाना बंद करें और केंद्र से इस राज्य को राहत राशि दिलवाने में मदद करें, जिससे राज्य के किसानों को राहत राशि पहुंचायी जा सके। उन्होंने कहा कि जब प्रदेश में भाजपा का शासन था, तब राज्य में किसानों पर गोलियां चलवाई गईं। किसान आत्महत्या कर रहे थे इसलिए उन्होंने भाजपा को सत्ता से बेदखल कर दिया।
भाजपा का जिला मुख्यालयों में जोरदार प्रदर्शन
किसान आक्रोश आंदोलन का नेतृत्व भोपाल में नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव के नेतृत्व में पार्टी कार्यकर्ता कलेक्टर कार्यालय में धरना प्रदर्शन किया। भार्गव ने कहा कि मध्य प्रदेश की गूंगी बहरी किसान विरोधी सरकार की वादाखिलाफी के विरोध में आज का प्रदेश भर में किसान आक्रोश आंदोलन किया गया है। ताकि प्रदेश सरकार को नींद से जगाया जा सके। वहीं प्रदेश भाजपा अध्यक्ष राकेश सिंह ने नरसिंहपुर में और पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान रीवा में आंदोलन का नेतृत्व किया।
भाजपा का आरोप- किसानों को नहीं मिला मुआवजा
भाजपा का आरोप है कि राज्य की कांग्रेस सरकार ने किसानों की कर्जमाफी का वादा पूरा नहीं किया है। किसान आत्महत्या तक के लिए मजबूर हैं। किसान हाल ही में अतिवृष्टि और बाढ़ के कारण परेशान हुए हैं, लेकिन राज्य सरकार ने उन्हें अभी तक मुआवजा नहीं दिया है। वहीं आम लोगों के बिजली बिल भी वादे के अनुरूप कम नहीं किए गए हैं। उल्टे बढ़े हुए बिल देकर उपभोक्ताओं को परेशान किया जा रहा है।

COPYRIGHT @ 2018 SWADESH. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS