Ad
मध्य प्रदेश
करोड़ों की आसामी निकली सहायक वाणिज्यिक कर महिला अधिकारी
By Swadesh | Publish Date: 21/5/2019 2:52:58 PM
करोड़ों की आसामी निकली सहायक वाणिज्यिक कर महिला अधिकारी

इंदौर। लोकायुक्त पुलिस ने मंगलवार को सुबह सहायक वाणिज्यिक कर अधिकारी कोमल बाली के छावनी स्थित मकान पर छापा मारा। इसमें उसकी करोड़ों की संपत्ति का खुलासा हुआ है। अब तक की जांच में उसके दो मकान, एक फॉर्म हाउस का पता चला है। घर से 45 तोला सोना और कई लग्जरी गाड़ियां मिली हैं। इसके अलवा 45 हजार रुपये नकदी मिली है। अब तक कोई लॉकर नहीं मिला है। 

लोकायुक्त डीएसपी एसएस यादव ने बताया कि छापे की कार्रवाई मंगलवार को सुबह छह बजे शुरू की गई। यह कार्रवाई छावनी स्थित उनके मकान पर हुई है। पुलिस को जांच में छावनी में उसके दो मकान, देवगुराडिय़ा में एक फॉर्म हॉउस का पता चला है, जिसकी कीमत करोड़ों रुपये है। इसके अलावा पुलिस को उसके घर से 45 तोला सोना मिला है। चार लग्जरी गाडिय़ां भी मिली हैं। 
 
49 हजार रुपये नकदी मिली है। दस से अधिक बैंक खातों की जानकारी मिली है, लेकिन लॉकर अब तक नहीं मिला है। उसने 2006 से विभाग में निरीक्षक के रूप में नौकरी शुरू की थी और वाणिज्यिक कर विभाग के हेड ऑफिस में इंदौर में पदस्थ है। कुछ सालों में ही वह करोड़ों की आसामी बन गई है। उल्लेखनीय रहे कि इसके पहले भी लोकायुक्त पुलिस ने टीएंडसीपी की महिला उप संचालक अनीता कुरोठे के यहां छापे की कार्रवाई कर उसकी 22 से अधिक करोड़ों की प्रॉपर्टी का पता लगाया था। छापे की कार्रवाई सुबह छह बजे शुरू हुई और अभी जारी है। इसमें 30 से अधिक लोगों की टीम जांच में जुटी है।
 
पति भाजपा नेता और प्रॉपर्टी ब्रोकर- 
पुलिस ने बताया कि महिला का पति भाजपा की नगर कार्यकारणी का सदस्य है और उसके पास चुनाव में मंडलेश्वर का प्रभार था। वह नेतागिरी के साथ केबल और प्रॉपर्टी का व्यवसाय करता है। उसका आरोप है कि कांग्रेस के लोग हार के चलते भाजपा के छोटे-छोटे कार्यकर्ताओं को निशाना बना रहे हैं। कांग्रेस के नेताओं ने ही उसे फंसाने के लिए छापे की कार्रवाई करवाई है। 
 
वाणिज्यिक कर आयुक्त को भी भ्रष्टाचार की शिकायत
सूत्रों के अनुसार कुछ दिन पूर्व पड़ोस में रहने वाले एक व्यक्ति ने वाणिज्यिक कर आयुक्त को एक शिकायत की थी कि यह अधिकारी तीन साल से स्टोर में पदस्थ है और वहां भारी भ्रष्टाचार किया जा रहा है। इसकी भी विभाग की ओर से अलग से जांच चल रही है और आज यहां लोकायुक्त पुलिस ने छापा मार दिया।
COPYRIGHT @ 2018 SWADESH. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS