मध्य प्रदेश
शिवराज का आरोप, किसानों का कर्जमाफ नहीं हुआ, सरकार चर्चा के लिए तैयार नहीं
By Swadesh | Publish Date: 9/7/2019 3:48:52 PM
शिवराज का आरोप, किसानों का कर्जमाफ नहीं हुआ, सरकार चर्चा के लिए तैयार नहीं

भोपाल। मप्र विधानसभा सत्र के दूसरे दिन मंगलवार को विपक्ष ने किसान कर्जमाफी के मुद्दे को लेकर सत्तापक्ष की घेराबंदी की और हंगामा करते हुए जमकर नारेबाजी की। किसान कर्जमाफी पर चर्चा के लिए समय नहीं दिए जाने पर विपक्ष ने सदन से बहिर्गमन कर दिया। 

 
सदन से बाहर आने के बाद मीडिया से बातचीत में शिवराज ने सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि चुनाव में कांग्रेस ने दस दिन में किसानों का 2 लाख तक का कर्ज माफ़ करने का वचन दिया था, लेकिन कर्जमाफ नहीं हुआ। उन्होंने कहा कि किसान परेशान हैं, उन्हें खाद-बीज नहीं मिल रहा है, लेकिन सरकार चर्चा के लिए तैयार नहीं है। इसलिए हमने सदन से वाकआउट किया है। शिवराज ने सरकार को चेतावनी देते हुए कहा है कि कर्ज माफ करो, नही तो सदन नही चलने देंगे। भाजपा सरकार के खिलाफ सड़क पर उतरेगी। 
 
शिवराज ने राज्य सरकार पर औने-पौने दाम में फसल खरीदने का आरोप लगाते हुए कहा कि निराशा के चलते किसान आत्महत्या कर रहे हैं। इस पूरे मामले पर नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने कहा कि सरकार किसान कर्ज माफी पर चर्चा के लिए सरकार तैयार नहीं है और टालमटोल कर रही है। प्रदेश में बारिश विलंब से हुई है, ऐसे में किसानों को जो सहायता मिलना चाहिए, वो नहीं मिल रही है। उन्हें लगता है इस बार किसान बोवनी भी नहीं कर पायेगा, ये सरकार की घोर असफलता है। उन्होंने कहा है कि कांग्रेस ने जनता को ठगने का काम किया है। वचन पत्र में किसान ऋण माफी की बात कही गई, लेकिन सत्ता में आने के बाद किसी किसान के खाते में पैसे नहीं आए।
COPYRIGHT @ 2018 SWADESH. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS