मध्य प्रदेश
मध्‍यप्रदेश में रुक-रुक कर होती रहेगी बारिश
By Swadesh | Publish Date: 3/8/2019 12:31:49 PM
मध्‍यप्रदेश में रुक-रुक कर होती रहेगी बारिश

भोपाल। प्रदेश में अभी सप्‍ताह भर कहीं तेज तो कहीं रुक-रुक कर बारिश होती रहेगी। ऐसा इसलिए होता रहेगा क्‍योंकि यहां तीन मानसूनी सिस्टम सक्रिय हैं। इसमें चार अगस्त को बंगाल की खाड़ी में जो कम दबाव का क्षेत्र बनने जा रहा है, उसके प्रभाव से प्रदेश के कई स्थानों पर झमाझम बारिश होगी। जिसका परिणाम होगा कि आगामी वर्ष में सूखे की मार झेलने से प्रदेश बच जाएगा। वहीं, मध्‍यप्रदेश में दीर्घकालीन औसत (एलपीए) के शत-प्रतिशत रहने की बात मौसम वैज्ञानिकों ने कही है। 

उल्‍लेखनीय है कि शनिवार सुबह तक राजधानी भोपाल सहित होशंगाबाद, पचमढ़ी, रीवा, सतना, उज्जैन और सीधी, सीहोर में एक दम होने वाली बारिश में जरूरत से अधिक बारिश हो चुकी है।
 
मध्‍यप्रदेश के मानसून को लेकर मौसम वैज्ञानिक अजय शुक्‍ला ने बताया कि वर्तमान में उत्तर-पश्चिमी मप्र पर एक ऊपरी हवा का चक्रवात बना हुआ है। मानसून ट्रफ (द्रोणिका लाइन) सीधी से होकर गुजर रही है। साथ ही एक अन्य ट्रफ दक्षिण राजस्थान से उत्तर-पश्चिम बंगाल की खाड़ी तक बना है। इसलिए प्रदेश में अभी अच्छी बारिश हो रही है। 
 
मौसम वैज्ञानिक ममता यादव का कहना था कि मानसून के 120 दिनों में से उम्‍मीद की जा रही है कि इस बार 70 दिनों तक प्रदेश में कहीं न कहीं बारिश होती रहेगी। जिसे आप सामान्य बारिश से लगभग 10 दिन अधिक मान सकते हैं। प्रदेश में राजधानी भोपाल सहित कई संभागों में बीच-बीच में रेनी डे की स्‍थ‍िति निर्मित होती रहेगी। एक दिन में 2.5 मिमी से अधिक बारिश वाला दिन मौसम वैज्ञानिकों की भाषा में रेनी डे  कहलाता है, जबकि लगातार दो से तीन दिन तक 2.5 मिमी से अधिक वर्षा को मानसून की बारिश माना जाता है। 
 
मौसम विज्ञानियों ने शनिवार-रविवार को प्रदेश के नीमच, मंदसौर, रतलाम, आगर, शाजापुर, गुना, शिवपुरी, अशोकनगर, श्योपुरकला, मुरैना, राजगढ़, छतरपुर, टीकमगढ़, पन्ना,सतना, रीवा में अच्छी बरसात होने की संभावना जताई है। वहीं मौसम विज्ञान केंद्र के मुताबिक यह ट्रफ उत्तर-पश्चिम मध्‍यप्रदेश से होकर गुजर रहा है। इससे भी यहां अभी आगामी सप्‍ताहभर लगातार बारिश होती रहेगी। 
COPYRIGHT @ 2018 SWADESH. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS