मध्य प्रदेश
स्वतंत्रता दिवस पर जेल से रिहा होंगे कैदी, सबसे ज्यादा ग्वालियर से
By Swadesh | Publish Date: 13/8/2019 1:52:39 PM
स्वतंत्रता दिवस पर जेल से रिहा होंगे कैदी, सबसे ज्यादा ग्वालियर से

भोपाल। स्वतंत्रता दिवस का मौका जेल में सजा काट रहे कैदियों के लिए भी आजादी का पैगाम लेकर आएगा। स्वतंत्रता दिवस पर हर साल की भांति इस साल भी बंदियों को रिहा किया जाएगा। इस बार प्रदेश से कुल 186 कैदियों को सजा माफी देते हुए जेल से रिहा किया जाएगा। इसमें सबसे ज्यादा 30 कैदी ग्वालियर जेल से रिहा हो होंगे। वहीं भोपाल से 12 कैदी रिहा होंगे। इस संबंध में सभी जिलों को आदेश पहुंच चुके हैं।

जेल उप महानिरीक्षक संजय पांडे ने बताया कि स्वतंत्रता दिवस पर इस साल प्रदेश की जेलों में बंद 186 कैदियों को सजा में छूट देकर उन्हें जेल से रिहाई दी जा रही है। इनमें चार महिला कैदी हैं और शेष सभी कैदी पुरुष हैं। जेल से रिहा किए जाने वाले कैदी हत्या के अपराध में आजीवन कारावास की सजा काट रहे हैं। जेल मैनुअल के हिसाब से कैदियों को स्वतंत्रता दिवस पर रिहाई का लाभ दिया जाता है और इसमें ऐसे कैदी को लाभ मिलता है जो आजीवन कारावास की सजा से दंडित है और उन्होंने सूखी सजा के 14 साल और माफी मिलाकर 20 वर्ष का कारावास भुगत लिया है। 
 
हालांकि रिकॉर्ड में कई जघन्य अपराध की धाराओं के कैदियों को शामिल नहीं किया जाता है। जेल मुख्यालय ने स्वतंत्रता दिवस पर रिहाई के लिए मापदण्ड निर्धारित कर कैदियों के प्रस्ताव को मंगाया था। जो मापदण्ड निर्धारित किए गए थे उसके तहत चिंहित किए गए कैदियों को आजीवन कारावास की सजा के साथ-साथ छोटी सजा वाले कैदियों को सजा माफी का भी लाभ स्वतंत्रता दिवस पर मिलेगा। 
COPYRIGHT @ 2018 SWADESH. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS