Ad
ब्रेकिंग न्यूज़
राहुल गांधी के खिलाफ आपराधिक केस दर्ज करने के लिए दायर याचिका पर सुनवाई 26 तक टलीराहुल के ‘चोकीदार चोर है’ अभियान के बचाव में आई कांग्रेसप्रधानमंत्री मोदी के विकास कार्यों की विरासत को आगे बढ़ाऊंगा: गौतम गंभीरभाजपा सांसद मीनाक्षी लेखी, रमेश बिधूड़ी सहित गौतम गंभीर और हंसराज हंस ने दाखिल किया नामांकनउप्र में तीसरे चरण का मतदान समाप्त, मुलायम समेत 120 उम्मीदवारों के भाग्य ईवीएम में कैदअखिलेश की सभा में तोड़ी कुर्सियां, नारेबाजी के कारण डिंपल नहीं दे पायीं पूरा भाषणफरीदाबाद को गुंडाराज से मुक्ति दिलाएंगे नवीन जयहिंद : सिसोदियासुषमा, शिवराज व तीन पूर्व मंत्रियों की मौजदगी में भरा भाजपा उम्मीदवार भार्गव ने नामांकन
मध्य प्रदेश
गोवर्धन पूजा प्रकृति आराधना की परंपरा: सीएम शिवराज
By Swadesh | Publish Date: 8/11/2018 4:01:30 PM
गोवर्धन पूजा प्रकृति आराधना की परंपरा: सीएम शिवराज

भोपाल। दीपावली के दूसरे दिन गुरुवार को भोपाल स्थित मुख्यमंत्री निवास पर गोवर्धन पूजा का अनुष्ठान परम्परागत ढंग से संपन्न हुआ। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान एवं उनकी धर्मपत्नी साधना सिंह चौहान ने विधि-विधान से गोवर्धन की पूजा-अर्चना की। उन्होंने गौमाता का पूजन कर उन्हें हलवा-पूरी खिलाई। 

 
सीएम शिवराज सिंह चौहान ने इस अवसर पर कहा कि गोवर्धन पूजा प्रकृति की आराधना करने की परंपरा है। यह प्रकृति के प्रति आदर और आभार व्यक्त करने का पर्व है। यह पहाड़ों, नदियों, पेड़, पौधों, वनस्पतियों को पूजने का संस्कार है। इनमें और मनुष्यों में एक ही चेतना है। उन्होंने कहा कि सदियों साल पहले भारत के ऋषियों ने पर्यावरण बचाने की परिकल्पना की थी। भगवान श्रीकृष्ण का संदेश है कि पर्यावरण की रक्षा करें और इसे बचाकर रखें। प्रकृति के शोषण की बजाय उसका दोहन करें ताकि प्रकृति में न असंतुलन पैदा होता है और जलवायु परिवर्तन जैसी समस्याओं का सामना भी नहीं करना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि धरती का उपयोग मानव के साथ-साथ पशु-पक्षियों के लिये भी है। उन्होंने गौमाता को भारत की आर्थिक समृद्धि का आधार बताया है।
COPYRIGHT @ 2018 SWADESH. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS