Ad
मध्य प्रदेश
भाजपा-कांग्रेस ने किया दांडी मार्च को याद
By Swadesh | Publish Date: 12/3/2019 4:20:09 PM
भाजपा-कांग्रेस ने किया दांडी मार्च को याद

भोपाल। महात्मा गांधी के नेतृत्व में अंग्रेज सरकार द्वारा नमक पर कर लगाए जाने के विरोध में वर्ष 1930 में नमक सत्याग्रह किया गया था। इसी सत्याग्रह के लिए महात्मा गांधी ने अपने अनुयायियों के साथ दांडी मार्च किया था। देश के स्वतंत्रता आंदोलन में नमक सत्याग्रह को मील का पत्थर माना जाता है। दांडी मार्च की वर्षगांठ 12 मार्च को पूरे देश में मनाई जा रही है। प्रदेश के दोनों प्रमुख राजनीतिक दलों भाजपा और कांग्रेस ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के नेतृत्व में निकाले गए इस मार्च को याद किया है। 

 
सत्ताधारी कांग्रेस और विपक्षी दल भाजपा ने सोशल मीडिया के जरिए महात्मा गांधी के नेतृत्व में निकाले गए दांडी मार्च को याद किया है। प्रदेश कांग्रेस ने इस स्वतंत्रता आंदोलन की महत्वपूर्ण कड़ी बताते हुए ट्वीट किया है- दांडी मार्च की वर्षगाँठ : आज ही के दिन 12 मार्च 1930 को महात्मा गांधी के नेतृत्व में दांडीमार्च निकाला गया था जिसने स्वतंत्रता के लिए भारत के संघर्ष में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। —बापू का दांडी मार्च कठोर और दमनकारी ब्रिटिश नीतियों के खिलाफ एक ऐतिहासिक अहिंसक आंदोलन था। 
 
वहीं, विपक्षी दल भाजपा की ओर से पूर्व मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने ट्वीट किया है- एक दुबला-पतला सा 61 साल का आदमी आज ही के दिन 1930 में अहमदाबाद से लँगोटी पहन, हाथ में लाठी लेकर अपने 18 साथियों के साथ दांडी की और एक चुटकी नमक उठाने के लिए चल पड़ा था...उस महात्मा ने पूरे विश्व को अन्याय के सामने सिर उठा कर चलना सिखा दिया। हमारे प्यारे बापू को शत-शत नमन। भारतीय जनता पार्टी के अन्य नेताओं ने भी दांडी मार्च को याद करते हुए महात्मा गांधी को श्रद्धांजलि अर्पित की है। 
COPYRIGHT @ 2018 SWADESH. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS