देश
भाजपा ने खोया जनता का विश्वास, केंद्र में आ रही है कांग्रेस, राहुल होंगे अगले प्रधानमंत्री- महेन्द्र मालवीया
By Swadesh | Publish Date: 16/5/2019 1:01:26 PM
भाजपा ने खोया जनता का विश्वास, केंद्र में आ रही है कांग्रेस, राहुल होंगे अगले प्रधानमंत्री- महेन्द्र मालवीया

जयपुर। देश के दिग्गज नेता के तौर पर छवि बना चुके अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के जनजाति प्रकोष्ठ के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष, राजस्थान के पूर्व केबीनेट मंत्री व प्रदेश कांग्रेस उपाध्यक्ष महेन्द्रजीत सिहं मालवीया ने कहा हैं कि देश की जनता भाजपा और उसके समर्थक दलो के नेताओं के वादों और इरादों को समझ चुकी है औैर इस बार केंन्द्र में कांग्रेस की सरकार बनने जा रही हैं जिसका नेतृत्व करते हुए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी प्रधानमंत्री होगें। 

मालवीया ने कहा कि भाजपा नेताओं ने लोकसभा चुनावों में अपने पांच वर्ष के कार्यकाल के आधार पर वोट नही मांगे हैं और कांग्रेस शासनकाल की तथाकथित कमीयों को गिनवाकर वोट हासिल करने का प्रयास करते रहे हैं, उनकी केन्द्र सरकार की विफलता का इससे बडा कोई उदाहरण नही हो सकता हैं। उन्होने कहा कि देश के लिये अपना बलिदान करने वाले और विकास की नीव को रखकर वर्तमान विकसित भारत का आधार तैयार करने वाले कांग्रेस के दिग्गजों पर कीचड उछाल कर केन्द्र सरकार के जिम्मेदार पदों पर बैठे लोग और भाजपा नेता अपनी नाकामीयों को नही छिपा सकते हैं। उन्होने कहा कि काग्रेसाध्यक्ष राहुल गांधी द्वारा राफेल सहित कई मुद्दों पर केंन्द्र सरकार को घेर कर भाजपाईयों को बेनकाब कर दिया हैं।
 
मालवीया ने कहा कि 2014 में जनता से बडेे बडे वादे करके केन्द्र् की सत्ता में आने वाले लोगो ने नोटबन्दी, जीएसटी के विकृत स्वरूप का क्रियान्वयन, विकास के मोर्चे पर विफलता, आर्थिक मोर्चे पर दयनीय प्र्दशन, रूपये के मुकाबले डालर के मूल्य का सर्वोच्च स्तर, दैनिक उपयोग की वस्तुओं पर मंहगाई की मार, पेट्रोलियम उत्पादों के उच्चतम मूल्य स्थिति के चलते जनता का विश्वास खो दिया हैं। विदेशो में जमा कालाधन लाने के दावो के बीच नोटबन्दी से गरीबो को घक्के खाने पड गये और देश  के विकास चक्र पर विपरित प्रभाव पडा हैं। 
 
उन्होने कहा कि कांग्रेस व समर्थक दलो को महागठबन्धन बताने वाले भाजपा नेता कई दलों को साथ लेकर चुनाव लड रहे हैं, क्या वो गठबन्धन नही हैें। देश में समान विचारधारा के लोगो के साथ रहने में कोई आपत्ति नही हैं। हर मोर्चे पर विफल केन्द्र सरकार के नेता सिर्फ एक मामले में सफल रहे हैें वो देश व विदेश की यात्रा करना हैं। यात्राओं का रिकार्ड बनाने वाली इन यात्राओं से कोई उपलब्धि अर्जित नही हो पाई हैं यह मुद्दा महत्वपूर्ण हैं। उपलब्धिविहिन यात्राएं सिर्फ सैर करने का माध्यम बनकर रह गई हैें।
 
वरिष्ठ और प्रभावी आदिवासी नेता होने के नाते देश के कई राज्यों में अखिल भारतीय कांग्रेेस कमेटी के पर्यवेक्षक के रूप में दौरा कर चुके मालवीया ने कहा कि प्रचार तंत्र का उपयोग कर लोगों को भ्रमित करने का प्रयास करने वाले भाजपा व उसके सहयोगियों की असलियत को जनता पहचान गई है, इसका संकेत गत दिनों हुए कई राज्यों के विधानसभा चुनावों में मिल गया है और लोकसभा चुनावों के बाद केन्द्र से भी पीएम मोदी की विदाई होगी।
 
मालवीया ने कहा कि प्रचार तंत्र से जनता को भ्रमित नहीं किया जा सकता है अन्यथा शाईनिंग इण्डिया के नाम पर पहले भी काफी वातावरण बनाया गया था, परन्तु यह प्रचार विदाई में बदल गया, इसी तरह इस बार भी केन्द्र सरकार की विदाई तय है. उन्होंने कहा कि राजस्थान में अशोक गहलोत सरकार बहुत अच्छा काम कर रही है और लोकसभा में पार्टी का श्रेष्ठ प्रदर्शन रहेगा। जनजाति क्षेत्र बांसवाड़ा-डूंगरपुर में बीटीपी के प्रदर्शन को लेकर मालवीया ने कहा कि आदिवासी, पिछड़ों और दलितों का उत्थान और कल्याण कांग्रेस ने किया है और पार्टी के पास योजनाबद्ध विकास की योजनाएं हैं। उन्होंने कहा कि टीएसपी ऐरीया में क्रियान्वित कल्याणकारी कार्यक्रम कांग्रेस की देन है और क्षेत्र के लोगों को भ्रमित करने के लिये जो अभियान चला था वो अब समापन की ओर है, जनता का विश्वास कांग्रेेस में बरकरार है और रहेगा।
COPYRIGHT @ 2018 SWADESH. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS