देश
रविवार को राजमहल, दुमका और गोड्डा में होगा मतदान, 42 उम्मीदवारों के भाग्य का फैैैसला करेंगे 45.64 लाख मतदाता
By Swadesh | Publish Date: 18/5/2019 4:01:34 PM
रविवार को राजमहल, दुमका और गोड्डा में होगा मतदान, 42 उम्मीदवारों के भाग्य का फैैैसला करेंगे 45.64 लाख मतदाता

रांची। लोकसभा चुनाव के सातवें और अंतिम चरण में झारखंड के संतालपरगना की राजमहल, दुमका और गोड्डा की लोकसभा सीटों के लिए रविवार को कड़ी सुरक्षा के बीच मतदान सुबह सात बजे से शाम चार बजे तक होगा। अंतिम चरण में  झारखंड की तीन संसदीय क्षेत्रों  के कुल 45,64,681 मतदाता 42 उम्मीदवारों  के भाग्य का फैसला करेंगे। मतदान के लिए इन क्षेत्रों में कुल 6258 मतदान केंद्र बनाए गए हैं।

 
मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी एल खियांग्ते ने शनिवार को बताया कि इन क्षेत्रों में शांतिपूर्ण और निष्पक्ष मतदान कराने की सारी तैयारियां पूरी कर ली गयी है। उन्होंने बताया कि 29 अप्रैल 2019 तक नए मतदाताओं में 38,403 पुरुष, 24355 महिलाएं और 4 थर्ड जेंडर के मतदाता हैं। एक जनवरी से 29 अप्रैल 2019 के बीच नए मतदाताओं की संख्या में 23,258 की बढ़ोतरी हुई। खियांग्ते ने बताया कि राजमहल सीट के लिए 15,735 नए मतदाता (18-19 साल के) मताधिकार का इस्तेमाल करेंगे। इसमें 9867 पुरुष, 5866 महिला और 2 थर्ड जेंडर के मतदाता हैं। 
 
दुमका में 18-19 साल के 23861 मतदाता पहली बार मताधिकार का इस्तेमाल करेंगे। इन नए मतदाताओं में 14459 पुरुष, 9401 महिलाएं और थर्ड जेंडर का एक  मतदाता हैं। पिछले आम चुनाव की अपेक्षा यहां इस साल 9521 नए मतदाता बढ़ गए हैं। इसी प्रकार गोड्डा लोकसभा सीट पर 23166 मतदाता पहली बार अपने मताधिकार का इस्तेमाल करेंगे। इनमें 14077 पुरुष, 9088 महिला और 1 थर्ड जेंडर के मतदाता हैं। इस तरह 2014 की तुलना में 2019 के चुनाव में 18 से 19 साल के नए मतदाताओं की संख्या में 7802 का इजाफा हुआ। 
 
उन्होंने बताया कि तीन सीटों पर मतदान प्रक्रिया के लिए 27,536 मतदानकर्मी प्रतिनियुक्त किए गए हैं। इसमें राजमहल लोकसभा क्षेत्र में 8888, दुमका में 7986 और गोड्डा में 10,662 मतदानकर्मी प्रतिनियुक्त किए गए हैं। इन तीनों  सीटों पर होने वाले मतदान के लिए 6258 कंट्रोल यूनिट, 6258 बैलेट यूनिट और 6258 वीवीपैट का इस्तेमाल किया जाएगा। इसके अलावा 1260 कंट्रोल यूनिट, 1260 बैलेट यूनिट और 1884 वीवीपैट रिजर्व में रखे गए हैं, ताकि किसी मतदान केंद्र में जरूरत पड़ने पर उसे उपलब्ध कराया जा सके।
 
खियांग्ते ने बताया कि इस चरण के चुनाव में 137 मतदान केंद्र महिलाएं संचालित करेंगी। जिनमें राजमहल में 31, दुमका में 83, औऱ गोड्डा में 23 मतदान केंद्र होंगे। इन मतदान केंद्रों पर मतदान कर्मी के साथ अधिकारी और सुरक्षाकर्मी भी महिलाएं होंगी। तीनों ही लोकसभा सीटों के लिए 204 आदर्श मतदान केंद्र बनाए गए हैं। इसमें राजमहल में 79, दुमका में 58 औऱ गोड्डा लोकसभा क्षेत्र में 67 आदर्श मतदान केंद्र बनाए गए हैं।
 
इस बीच  पुलिस महानिरीक्षक (अभियान) आशीष बत्रा ने बताया कि राजमहल, दुमका और गोड्डा लोकसभा सीट के लिए 19 मई को होनेवाले मतदान को लेकर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं और इसके लिए 37398 हजार सुरक्षकर्मियों को तैनात किया गया है। इसके अलावा अति संवेदनशील और संवेदनशील मतदान केंद्रों में शांतिपूर्ण मतदान कराने के लिए केंद्रीय अर्धसैनिक बल के जवानों की तैनाती की गई है। इसके साथ संवेदनशील मतदान केंद्रों की निगरानी के लिए दो  हेलीकॉप्टर का इस्तेमाल किया जाएगा। उन्होंने बताया कि दुमका लोकसभा क्षेत्र के 8 मतदान केंद्रों को सुरक्षा के लिहाज से परिवर्तित भी किया गया है।
 
खियांग्ते ने बताया कि इन तीन सीटों पर 589 मतदान केंद्रों की वेबकास्टिंग की जाएगी। इसके लिए राजमहल के 191, दुमका के 186 और गोड्डा के 212 मतदान केंद्रों का चयन वेबकास्टिंग के लिए किया गया है। क्षेत्रों में 604 माइक्रो ऑब्जर्वर प्रतिनियुक्त किए गए हैं।
 
उल्लेखनीय है कि संतालपरगना क्षेत्र की दुमका लोकसभा सीट पर इस बार का चुनाव पिछले चुनावाेें से भिन्न है। इस बार  यहां भाजपा के खिलाफ विपक्षी गठबंधन के उम्मीदवार संयुक्त रूप से  चुनाव लड़ रहे हैं। झामुमो के शिबू सोरेन का इस बार भी भाजपा के सुनील सोरेन से मुकाबला है। लेकिन इस बार दोनों के बीच सीधा मुकाबला है। राजमहल में भी इस बार विजय हांसदा और हेमलाल मुर्मू  में सीधी टक्कर है। वैसे माकपा के गोपिन सोरेन भी राजमहल से चुनाव मैदान में हैं। गोड्डा में इस बार भाजपा के निशिकांत दुबे का सीधा मुकाबला झाविमो के प्रदीप यादव से है। 
COPYRIGHT @ 2018 SWADESH. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS