देश
श्रीहरिकोटा में इसरो ने पीएसएलवी-सी46 लॉन्च किया
By Swadesh | Publish Date: 22/5/2019 11:04:07 AM
श्रीहरिकोटा में इसरो ने पीएसएलवी-सी46 लॉन्च किया

हैदराबाद। भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने बुधवार सुबह 5.30 बजे श्रीहरिकोटा के सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र से पोलर सैटेलाइट लांच व्हीकल (पीएसएलवी-सी46) को सफलतापूर्वक लॉन्च किया।

 
इसरो के मुताबिक बादल रहने पर रेगुलर रिमोट सेंसिंग या ऑप्टिकल इमेजिंग सैटेलाइट जमीन पर मौजूद चीजों की स्थिति ढंग से नहीं दिखा पाते। सिंथेटिक अपर्चर रडार (सार) इस कमी को पूरा करेगा। यह हर मौसम में चाहे रात हो, बादल हो या बारिश हो, ऑब्जेक्ट की सही तस्वीर जारी करेगा। इससे आपदा राहत में और सुरक्षाबलों को काफी मदद मिलेगी।
 
पीएसएलवी-सी46 ने सफलतापूर्वक रडार इमेजिंग अर्थ ऑब्जर्वेशन सेटेलाइट ( आरआईएसएटी-2बी) रडार पृथ्वी अवलोकन सैटेलाइट को 555 किमी ऊंचाई वाले लो अर्थ ऑर्बिट में इंजेक्ट किया। यह पीएसएलवी की 48वीं उड़ान है। यह सीरीज का चौथा सैटेलाइट है, जो खुफिया निगरानी, कृषि, वन और आपदा प्रबंधन सहयोग जैसे क्षेत्रों में मदद करेगा। 
 
आरआईएसएटी-2बी सैटेलाइट का इस्तेमाल किसी भी तरह के मौसम में टोही गतिविधियों, रणनीतिक निगरानियों और आपदा प्रबंधन में आसानी से किया जा सकेगा। इस सैटेलाइट के साथ सिंथेटिक अपर्चर रडार(सार) इमेजर भेजा गया है। इससे संचार सेवाएं निरंतर बनी रहेंगी।
 
उल्लेखनीय है कि यह सैटेलाइट प्राकृतिक आपदाओं में मदद करेगा। इसके जरिए अंतरिक्ष से जमीन पर तीन फीट की ऊंचाई तक की अच्छी तस्वीरें ली जा सकती हैं। इस सीरीज के सैटेलाइट को सीमाओं की निगरानी और घुसपैठ रोकने के लिए 26/11 मुंबई हमलों के बाद विकसित किया गया था।
COPYRIGHT @ 2018 SWADESH. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS