देश
ईमानदारी व राष्ट्रवाद की जीत, वंशवाद व तोड़तोड़ की राजनीति खत्म: मनोहर लाल
By Swadesh | Publish Date: 23/5/2019 5:32:51 PM
ईमानदारी व राष्ट्रवाद की जीत, वंशवाद व तोड़तोड़ की राजनीति खत्म: मनोहर लाल

चंडीगढ़। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि लोकसभा चुनाव में ईमानदारी व राष्ट्रवाद की जीत हुई है और वंशवाद व जोड़-तोड़ की राजनीति खत्म हुई है। वर्ष 2014 में देश की जनता ने इस राजनीति को खत्म करने की मुहिम शुरू की थी और 2019 के चुनाव में उस पर मोहर लगाई है। प्रदेश में गढ़ का ट्रेंड बन चुका था, जनता ने उस गढ़ के तोड़ने का काम किया है। जीत का सबसे बड़ा फैक्टर नरेंद्र मोदी और प्रदेश में समान विकास है। 

 
मुख्यमंत्री गुरुवार को चुनाव नतीजों के रुझान के बाद सीएम आवास पर पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। मुख्यमंत्री ने कहा कि देश की जनता ने राष्ट्रवाद पर मोहर लगाई है। 50 वर्ष बाद देश में पूर्ण बहुमत की सरकार बनी है। इससे पहले 1971 में पूर्ण बहुमत की सरकार बनती थी। 
 
मुख्यमंत्री ने विपक्षियों पर निशाना साधते हुए कहा कि कुछ लोगों ने जातिवाद के विषय को उछालकर प्रदेश की जनता को गुमराह करने की कोशिश की, लेकिन जनता ने समाजिक समरसता का समर्थन करते हुए भाजपा की पूर्ण बहुमत की सरकार बनाई है। 
 
मुख्यमंत्री ने कहा कि यह पहला चुनाव है जो जनता ने लड़ा है। वरना अन्य चुनावों में कभी नेता रूठ जाता था तो कभी कार्यकर्ता नाराज हो जाता था, लेकिन इस चुनाव में ऐसा कुछ नहीं हुआ है। विपक्षी भी भाजपा की रेलगाड़ी में चढ़ने के आतुर हैं। भाजपा ने देश के विकास और राष्ट्रवाद पर चुनाव लड़ा था, जिसे जनता ने पूर्ण समर्थन दिया। 
 
यूपीए को पता नहीं क्या होता है राष्ट्रवाद 
मुख्यमंत्री ने कांग्रेस व यूपीए पर निशाना साधते हुए कहा कि कांग्रेस को पता ही नहीं राष्ट्रवाद क्या होता है। मगर भाजपा का मूल उद्देश्य ही राष्ट्रवाद है। पुलवामा हमले के बाद यूपीए ने जिस तरह सबूत मांगे, उसी समय यूपीए जनता का विश्वास खो चुकी थी। 
 
ईवीएम को लेकर वहम 
मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्होंने पहले ही कहा था कि ईवीएम पर भरोसा न करना विपक्ष का वहम है। छठे चरण के समाप्त होते ही विपक्षी दलों ने ईवीएम पर अंगुली उठानी शुरू कर दी थी। उन्होंने पहले ही कहा था कि ईवीएम को लेकर विपक्ष को वहम रहता है। चुनाव आयोग को जिस तरह विपक्षी दलों से सिफारिश की, उससे स्पष्ट है कि विपक्षी आज भी वहम में जी रहे हैं। 
 
विपक्ष का बिखराव नहीं अच्छा 
विपक्षी दलों की करारी हार पर मुख्यमंत्री ने कहा कि विपक्ष में बिखराव अच्छा नहीं है। विपक्ष मजबूत होना चाहिए ताकि समय-समय पर सुझाव मिलते रहें और राज करने वाली पार्टी उन पर अमल करके नए सुधार करे। 
 
वंशवाद की राजनीति खात्मे की ओर 
मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश से वंशवाद की राजनीति खात्मे की ओर है। विपक्षी दल जन हितों की बजाय अपना स्वार्थ देखते हैं। इनका एक ही विजन होता है, अपना घर भरना। साठगांठ की राजनीति से जनता का भरोसा उठ चुका है। 
 
370 समाप्त करना भाजपा का लक्ष्य
मुख्यमंत्री ने कहा कि धारा-370 व 35-ए को समाप्त करना भाजपा का लक्ष्य है। भाजपा पहले देश हित में सोचती है जबकि कांग्रेस मैं, मेरा और परिवार के बारे में सोचती है। 
 
लोकसभा चुनाव में निकले कई कांटे
कांटा निकालने पर मुख्यमंत्री ने चुटकी लेते हुए कहा कि कांग्रेस नेताओं के लोकसभा चुनाव में कई कांटे निकल गए हैं। वे एक दूसरे की हार से खुश हैं। 
COPYRIGHT @ 2018 SWADESH. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS