देश
सोनभद्र: जमीन के विवाद में नौ लोगों की हत्या, मुख्यमंत्री योगी ने कड़ी कार्रवाई के दिये निर्देश
By Swadesh | Publish Date: 17/7/2019 5:58:10 PM
सोनभद्र: जमीन के विवाद में नौ लोगों की हत्या, मुख्यमंत्री योगी ने कड़ी कार्रवाई के दिये निर्देश

सोनभद्र। जनपद के घोरावल कोतवाली क्षेत्र की मूर्तिया ग्राम पंचायत में बुधवार दोपहर जमीन के विवाद में दो पक्षों में जमकर फायरिंग हुई। खूनी संघर्ष में नौ लोगों की मौत हो गई, जबकि 20 से अधिक लोग घायल हैं। मृतकों की संख्या बढ़ सकती है। घटना के बाद गांव में कई घरों में मातम का माहौल है। 

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने घटना को संज्ञान में लेते हुए मृतकों के परिवार के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त की है। उन्होंने घायलों को तत्काल चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराने के लिए जिलाधिकारी को निर्देश दिया। उन्होंने पुलिस महानिदेशक को व्यक्तिगत रूप से मामले की निगरानी करने और दोषियों को पकड़ने के लिए प्रभावी कार्रवाई सुनिश्चित करने का निर्देश दिया है।

बताया जा रहा है कि दो पक्षों के बीच खेत को लेकर विवाद है।  एक पक्ष उभा गांव का प्रधान यज्ञवत भूर्तिया है, जो बुधवार को अपने साथ कुछ लोगों को ट्रैक्टर में भरकर ले आया। ये लोग यहां आकर खेत को जोतने लगे। इस खेत पर ग्रामीणों ने पहले से कब्जा कर रखा था। उन्होंने प्रधान पक्ष का विरोध किया। इस पर उसने अपने साथियों के साथ मिलकर ग्रामीणों पर हमला बोल दिया। विवाद बढ़ने पर असलहों से जमकर फायरिंग की, जिससे पूरे गांव में दहशत फैल गई।

पुलिस महानिदेशक ओमप्रकाश सिंह ने बताया कि कोतवाली घोरावल ग्राम उभ्भा में जमीन का विवाद पहले से चल रहा है। यहां के ग्राम प्रधान ने दो साल पहले बिहार के एक आईएएस अधिकारी से जमीन खरीदी थी। आज प्रधान और उसके पक्ष के लोग खेत को जोतने गये थे। तभी गांव के आदिवासियों ने इसका विरोध किया। बात बढ़ने पर ग्राम प्रधान पर जानलेवा हमला कर दिया। इस दौरान ग्राम प्रधान के पक्ष ने गोलियां चलाई, जिसमें नौ लोगों की मौत हो गई है। ग्राम प्रधान के दो भतीजों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। अन्य आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए सर्च ऑपरेशन चलाया जा रहा है। 

आईजी कानून एवं व्यवस्था प्रवीण कुमार ने बताया कि बिगड़े माहौल को शांतिपूर्ण बनाए रखने के लिए पुलिस कार्रवाई कर रही है। जिलाधिकारी, पुलिस अधीक्षक सहित अन्य अधिकारी मौके पर हैं। 

मृतकों में रामचंदर (50) पुत्र लालशाह, राजेश गौड़ (28) पुत्र गोविंद, अशोक (30) पुत्र नन्‍हकू, रामधारी (60) पुत्र हीरा शाह, नंदलाल की 45 वर्षीय पत्नी, दुर्गावती (42) पत्‍नी रंगीला लाल, राम सुंदर (50) पुत्र तेजा सिंह, जवाहिर (48) पुत्र जयकरन, सुखवन्‍ती (40) रामनाथ। हैं। इनकी संख्या बढ़ सकती है। वहीं घायलो में अशाेक गोंड (35) पुत्र हरिवंश, केरवा देवी (50) पत्‍नी राम प्रसाद, रामधीन (35) पुत्र तेजा सिंह आदि बताये जा रहे हैं। घायलों को रॉबर्ट्सगंज के अस्पताल और घोरावल के निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

अखिलेश ने की 20-20 लाख का मुआवजा देने की मांग

उधर इस मामले को लेकर समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने सरकार पर हमला बोला। उन्होंने ट्वीट किया, 'अपराधियों के आगे नतमस्तक भाजपा सरकार में एक और नरसंहार! सोनभद्र में भू-माफियाओं द्वारा जमीन विवाद के अंदर 9 लोगों की हत्या दहशत एवं दमन का प्रतीक। इसके साथ ही अखिलेश ने प्रदेश सरकार से मृतकों के परिवारों को 20-20 लाख रुपए मुआवजा और दोषियों पर सख्त से सख्त कार्रवाई करने की मांग की है। 

COPYRIGHT @ 2018 SWADESH. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS