देश
अंतरराष्ट्रीय नगर कीर्तन का जगाधरी में स्वागत, दर्शन के लिए उमड़ी भीड़
By Swadesh | Publish Date: 13/8/2019 5:34:36 PM
अंतरराष्ट्रीय नगर कीर्तन का जगाधरी में स्वागत, दर्शन के लिए उमड़ी भीड़

यमुनानगर। श्री गुरुनानक देव जी महाराज के जन्म स्थान श्रीननकाना साहिब पाकिस्तान से दुनिया के भ्रमण पर निकले  अंतरराष्ट्रीय नगर कीर्तन का मंगलवार को जगाधरी पहुंचने पर श्रद्धा और उत्साह के स्वागत किया गया। दर्शनों के लिए संगत की भीड़ उमड़ पड़ी। संगत ने श्री गुरुग्रंथ साहिब महाराज के समक्ष शीश नवाते हुए श्री गुरुनानक देव जी महाराज की खड़ाऊं एवं ऐतिहासिक निशानियों के दीदार कर खुद को धन्य किया। 

ऐतिहासिक गुरुद्वारा साहिब पातशाही पहली, दसवीं कपाल मोचन और जगाधरी में नगर कीर्तन का स्वागत किया गया। गुरुद्वारा कोपाल मोचन में इस मौके पर शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी अमृतसर के पूर्व वरिष्ठ उपाध्यक्ष जत्थेदार बलदेव सिंह कैमपुर, एसजीपीसी मेंबर बीबी मनजीत कौर गधौला, पंजाब स्टेट इंडस्ट्री डेवलपमेंट कापोरेशन के अमरजीत सिंह मंगी, जसवंत सिंह मधार, परमिंदर सिंह, अमरजीत सिंह एडवोकेट, सुरिंदर सिंह, तेजा सिंह, अवतार सिंह, बलजीत सिंह और लाजवंत सिंह प्रमुख रूप से मौजूद रहे।
 
संगत की जो बोले सो निहाल की गूंज के बीच नगर कीर्तन पर फूल बरसाए गए। जत्थेदार बलदेव सिंह ने कहा है कि अंतरराष्ट्रीय नगर कीर्तन का भारत आना देशवासियों के लिए सौभाग्य की बात है। नगर कीर्तन छछरौली, शेरपुर, खिजराबाद से पांवटा साहिब पहुंचेगा। वहां से नगर कीर्तन देहरादून रवाना होगा। 
 
उन्होंने कहा, अंतरराष्ट्रीय नगर कीर्तन देश के विभिन्न राज्यों से होता हुआ अक्टूबर में दोबारा हरियाणा के बहादुरगढ़ में प्रवेश करेगा। बहादुरगढ़ में संगत नगर कीर्तन स्वागत करेगी। नगर कीर्तन रोहतक, जींद, पानीपत, करनाल, अंसध, कैथल, पूंडरी, निसिंग, तरावड़ी, नीलोखेड़ी, इंद्री, लाडवा, कुरुक्षेत्र, पिहोवा, चीका, धमतान साहिब जींद, रतिया (फतेहाबाद), सिरसा, डबवाल का भ्रमण करते हुए राजस्थान की सीमा प्रवेश करेगा। 
COPYRIGHT @ 2018 SWADESH. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS