देश
कश्मीर घाटी में कड़ी सुरक्षा के बीच खुले स्कूल एवं सरकारी कार्यालय
By Swadesh | Publish Date: 19/8/2019 2:49:54 PM
कश्मीर घाटी में कड़ी सुरक्षा के बीच खुले स्कूल एवं सरकारी कार्यालय

श्रीनगर। जम्मू कश्मीर में हालात अब धीरे-धीरे सामान्य होने शुरू हो गए हैं। सोमवार को कश्मीर घाटी में करीब 190 स्कूलों को एक बार फिर खोल दिया गया। इस दौरान कानून व्यवस्था बनाए रखने तथा चाक-चौबंद सुरक्षा के लिए घाटी में चप्पे चप्पे पर सुरक्षाबलों की तैनात की गई है। कश्मीर घाटी में शिक्षा संस्थान अनुच्छेद 370 एवं 35ए को जम्मू कश्मीर से समाप्त करने के बाद से ही बंद कर दिए गए थे। कश्मीर घाटी के साथ ही राजौरी, बनिहाल तथा पुंछ में भी स्थिति अब सामान्य होने लगी है। नतीजतन राजौरी, पुंछ और बनिहाल में आज (सोमवार को) स्कूल खुल गए। हालांकि स्कूलों के आसपास की सुरक्षा को बढ़ा दिया गया है।

 
श्रीनगर में भी स्कूल खुलने के साथ आज से सभी सरकारी कार्यालयों को भी खोल दिया गया है। पिछले दिनों की बंधी के बाद सोमवार सुबह सड़कों पर बच्चे तथा सरकारी कर्मचारी अपने-अपने गंतव्य पर जाते दिखे। घाटी में करीब 14 दिन बाद स्कूल खुले हैं, ऐसे में बच्चों में अलग ही उत्साह दिखा। हालांकि स्कूलों में बच्चों की संख्या फिलहाल कम ही है।
 
श्रीनगर के डिप्टी कमिश्नर शाहिद चौधरी के अनुसार सोमवार से घाटी में 190 स्कूल खुले हैं। ऐसे में सबसे बड़ी चुनौती बच्चों की सुरक्षा है। उन्होंने कहा कि 14 दिन बाद घाटी में स्कूल खुले हैं, ऐसे में यहां शान्ति बनाए रखनी सुरक्षाबलों के लिए चुनौती होगी।
 
दूसरी ओर, जम्मू के पांच जिलों में बारह दिन बंद रहने के बाद शनिवार को बहाल की गई मोबाइल इंटरनेट सेवा रविवार सुबह अचानक फिर बंद कर दी गई थी। मोबाइल इंटरनेट बंद होने के कारण कई प्रकार की अफवाहों ने जोर पकड़ लिया। लोगों को यहां तक कहते सुना गया कि सोमवार से शायद कर्फ्यू लगा दिया जाएगा लेकिन ऐसा कुल नहीं था। इसके बाद देर शाम प्रशासन द्वारा स्पष्ट किया गया कि यह सेवा तकनीकी खराबी तथा किन्हीं अन्य कारणों से बंद की गई है और कहीं कोई भी अप्रिय घटना नहीं हुई है।
 
जम्मू-कश्मीर के गृह विभाग की तरफ से भी सोमवार सुबह एक बयान जारी किया गया, जिसकी जानकारी पुलिस द्वारा एक पत्रकार वार्ता में दी गई। पुलिस अधिकारियों ने कहा कि घाटी में अफवाह फैलाई जा रही है, जिनका हमें मिलकर और समझदारी से हल निकालना होगा। गृह विभाग की तरफ से अपील की गई है हथियार जब्ती या फिर कर्फ्यू जैसी अफवाहों पर भरोसा ना करें।
 
इस बीच जम्मू जिले में पूरी तरह से शांति है। किसी भी क्षेत्र में कोई भी अप्रिय घटना नहीं घटी है। वहीं एसएसपी राजौरी जुगल मन्हास ने जारी एक बयान में कहा कि जिले में कोई भी घटना नहीं घटी है, स्थिति पूरी तरह से शांतिपूर्ण है। बाजार खुले हुए हैं। शनिवार को स्कूलों को भी खोल दिया गया है। उन्होंने कहा कि कुछ लोग अफवाहें फैला कर हालात को खराब करने का प्रयास कर रहे हैं। ऐसे लोगों की पहचान की जा रही है। जल्द उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। 
COPYRIGHT @ 2018 SWADESH. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS