देश
सोपोर से पकड़े गए आठों आतंकी लश्कर-ए-तैयबा से संबंधित, जम्मू में देर रात तक चला तलाशी अभियान
By Swadesh | Publish Date: 10/9/2019 11:02:22 AM
सोपोर से पकड़े गए आठों आतंकी लश्कर-ए-तैयबा से संबंधित, जम्मू में देर रात तक चला तलाशी अभियान

श्रीनगर। जम्मू कश्मीर पुलिस ने कश्मीर घाटी के सोपोर से आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा के आठ आतंकियों को गिरफ्तार किया है। आठों आतंकी लश्कर-ए-तैयबा के जिला कमांडर सज्जाद मीर उर्फ हैदर के गुट से संबंधित हैं, जिनकी पहचान एजाज मीर, तौसीफ नजार, उमर मीर, इम्तियाज नजार, उमर अकबर, दानिश हबीब, फैजान लतीफ एवं शौकत मीर के रूप में हुई है।
 
एसएसपी सोपोर ने बताया कि गिरफ्तार आठों युवक दहशतगर्द आतंकी संगठनों के लिए जमीनी स्तर पर काम करने के साथ ही कश्मीर घाटी के लोगों को धमकी दे रहे थे कि अगर अनुच्छेद 370 के विरोध में उन्होंने अपना समर्थन नहीं दिया तो इसके अंजाम बुरे होंगे। ये लोग कश्मीरी आवाम को देश के खिलाफ भड़काने के लिए अलग-अलग इलाकों में धमकी भरे पोस्टर्स भी लगा रहे थे। पुलिस ने आतंकियों के कब्जे से कम्प्यूटर प्रिंटर, स्कैनर एवं बड़ी संख्या में जेहादी साहित्य बरामद किए हैं। इन सभी को अलग-अलग ठिकानों से गिरफ्तार किया गया है। 
 
पूछताछ में इन्होंने अपना गुनाह कबूल किया और बताया कि वे लश्कर कमांडर हैदर और उसके दो अन्य साथियों मुदस्सर पंडित व आसिफ मकबूल के कहने पर धमकी भरे पोस्टर विभिन्न इलाकों में लगा रहे थे। सोपोर में बंद का आह्वान नहीं मानने वालों को जान से मारने की धमकियां दे रहे थे और सुरक्षाबलों पर हमले की तैयारी में जुटे थे। पुलिस ने बताया कि यह लोग सोपोर में हुई कुछ नागरिक हत्याओं में भी शामिल हो सकते हैं, जिसके संबंध में पूछताछ जारी है। लश्कर के जिला कमांडर हैदर पर आठ लाख का इनाम है और 31 अगस्त को उसने सोपोर में धमकी भरे पोस्टर जारी किए थे।
 
दूसरी ओर जम्मू में संदिग्ध दिखने पर सुंजवां, बठिंडी, कालूचक्क एवं बड़ी ब्राहम्मणा में सैन्य शिविरों के आस पर बड़े पैमाने पर तलाशी अभियान चलाया गया। देर रात तक चले इस तलाशी अभियान में सेना, पुलिस व एसओजी की संयुक्त टीम के अलावा हेलीकॉप्टर की भी मदद ली गई। मंगलवार सुबह तक जम्मू में हेलीकॉप्टर इनकी तलाश में मंडराता देखा गया। खबर लिखे जाने तक किसी भी संदिग्ध के पकड़े या मारे जाने की सूचना नहीं थी।
 
बताया जा रहा है कि पाकिस्तान प्रायोजित आतंकी जम्मू कश्मीर में अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद से बड़ी आतंकी वारदात को अंजाम देना चाह रहे हैं। जम्मू संभाग के पुंछ, साम्बा, हीरानगर, बड़ी ब्राहम्णा एवं जम्मू शहर के आस-पास स्थित सैन्य ठिकाने इनके हमले का निशाना हो सकते हैं, जिसके चलते हाई अलर्ट जारी किया गया है। पाकिस्तानी सेना जम्मू कश्मीर की नियंत्रण रेखा एवं अंतरराष्ट्रीय सीमा पर लगातार गोलीबारी कर भारतीय सीमा में आतंकियों की घुसपैठ कराने का प्रयास कर रही है। सूत्रों के अनुसार लगभग 350 आतंकी पाकिस्तानी सेना की निगरानी में चल रहे लॉन्चिंग पैडों पर जम्मू कश्मीर की सीमा में घुसपैठ के लिए तैयार बैठे हैं। चौकस भारतीय जवान भी पाकिस्तान की इस गोलीबारी का मुंहतोड़ जबाव दे रहे हैं।
COPYRIGHT @ 2018 SWADESH. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS