Ad
देश
क्‍या डोनाल्‍ड ट्रंप की बेटी के कारण भारतीय मूल की निक्‍की हेली को पद से हटना पड़ा?
By Swadesh | Publish Date: 10/10/2018 12:10:38 PM
क्‍या डोनाल्‍ड ट्रंप की बेटी के कारण भारतीय मूल की निक्‍की हेली को पद से हटना पड़ा?

वाशिंगटन। संयुक्‍त राष्‍ट्र में अमेरिका की राजदूत निक्‍की हेली के अचानक इस्‍तीफे से सियासी तूफान आ गया है। इसके साथ ही अमेरिकी राजनीतिक गलियारे में यह चर्चा शुरू हो गई है कि राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप की बेटी इवांका ट्रंप निक्‍की हेली की जगह ले सकती हैं। इन कयासों को उस वक्‍त और भी बल मिला जब डोनाल्ड ट्रंप ने खुद कहा कि अगर उन्हें भाई-भतीजावाद की शिकायतें नहीं मिलें तो उनकी बेटी इवांका संयुक्त राष्ट्र में देश के राजदूत के तौर पर ''प्रभावशाली'' साबित होंगी।
 
इस संबंध में डोनाल्‍ड ट्रंप ने व्हाइट हाउस में कहा, ‘‘इवांका प्रभावशाली साबित होंगी। इसका भाई-भतीजावाद से कुछ लेना-देना नहीं है लेकिन मैं आपको बताना चाहता हूं कि जो लोग जानते हैं, उन्हें मालूम है कि इवांका प्रभावशाली साबित होंगी। लेकिन आप जानते हैं कि तब मुझ पर भाई-भतीजावाद के आरोप लगेंगे।’’ इसके साथ ही ट्रंप ने इवांका को नियुक्त करने की संभावना को खारिज नहीं करते हुए संवाददाताओं से कहा, ‘‘हम कई लोगों के नामों पर विचार कर रहे हैं।’’
 
हालांकि इवांका ट्रंप ने अपनी तरफ से इन कयासों पर विराम लगाते हुए ट्वीट किया, ''राष्‍ट्रपति अंबेसडर हेली की जगह पर सक्षम व्‍यक्ति को नामित करेंगे।'' उन्‍होंने कहा, ''व्‍हाइट हाउस में कई महान शख्सियतों के साथ काम करना खुद में एक सम्‍मान की बात है और मैं ये जानती हूं‍ कि राजदूत हेली की जगह पर राष्‍ट्रपति सक्षम व्‍यक्ति का चुनाव करेंगे। हेली का स्‍थानापन्‍न मैं नहीं होऊंगी।'' 
इवांका और उनके पति जारेड कुश्नर व्हाइट हाउस में शीर्ष स्तर पर अवैतनिक सलाहकार के रूप में काम करते हैं। अन्य कामों के अलावा कुश्नर को पश्चिम एशिया में शांति योजना तैयार करने का जिम्मा भी सौंपा गया है।
 
इससे कुछ घंटों पहले सभी को आश्चर्य में डालते हुए संयुक्त राष्ट्र में अमेरिका की भारतीय मूल की राजदूत निक्की हेली ने मंगलवार को अपने पद से इस्तीफा दे दिया। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने 46 वर्षीय हेली का इस्तीफा स्वीकार कर लिया। एक अनोखे कदम के तहत उन्होंने ओवल ऑफिस में हेली के इस्तीफे की घोषणा की और उनके काम की तारीफ की। ट्रंप ने आनन-फानन में बुलाये गये संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘मैं यह (ओवल ऑफिस विदाई) करना चाहता था क्योंकि संयुक्त राष्ट्र में राजदूत निक्की हेली मेरे लिए खास रही हैं। उन्होंने असाधारण कार्य किया है। वह बहुत ही अच्छी शख्सियत और महत्वपूर्ण हैं। लेकिन वह ऐसी भी हैं जो अपनी बात मनवा लेती हैं।’’ राष्ट्रपति ने कहा, ‘‘उन्होंने करीब छह महीने पहले कहा था, ‘‘मैं थोड़ा अवकाश लेना चाहती हूं’।’’
 
ट्रंप की उदारवादी रिपब्लिकन समझी जाने वाली हेली ने 2020 के राष्ट्रपति चुनाव में उतरने से इनकार किया और कहा कि अब वह अगले दो साल तक ट्रंप के फिर से राष्ट्रपति चुने जाने के अभियान में जुट जाएंगी। किसी राष्ट्रपति के मंत्रिमंडल में पहली भारतीय अमेरिकी हेली ने कहा कि इस पद पर सेवा देना उनके जीवन में एक बड़ा सम्मान है। पंजाब के भारतीय प्रवासियों की संतान हेली ने कहा कि दक्षिण कैरोलिना की गर्वनर के रूप में छह साल समेत आठ साल के व्यस्त जीवन के बाद वह कुछ अवकाश लेना चाहती हैं।
COPYRIGHT @ 2018 SWADESH. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS