Ad
ब्रेकिंग न्यूज़
राहुल गांधी के खिलाफ आपराधिक केस दर्ज करने के लिए दायर याचिका पर सुनवाई 26 तक टलीराहुल के ‘चोकीदार चोर है’ अभियान के बचाव में आई कांग्रेसप्रधानमंत्री मोदी के विकास कार्यों की विरासत को आगे बढ़ाऊंगा: गौतम गंभीरभाजपा सांसद मीनाक्षी लेखी, रमेश बिधूड़ी सहित गौतम गंभीर और हंसराज हंस ने दाखिल किया नामांकनउप्र में तीसरे चरण का मतदान समाप्त, मुलायम समेत 120 उम्मीदवारों के भाग्य ईवीएम में कैदअखिलेश की सभा में तोड़ी कुर्सियां, नारेबाजी के कारण डिंपल नहीं दे पायीं पूरा भाषणफरीदाबाद को गुंडाराज से मुक्ति दिलाएंगे नवीन जयहिंद : सिसोदियासुषमा, शिवराज व तीन पूर्व मंत्रियों की मौजदगी में भरा भाजपा उम्मीदवार भार्गव ने नामांकन
देश
राहुल तो भाषण देने में ही कन्फ्यूज हो जाते हैं: शिवराज
By Swadesh | Publish Date: 6/11/2018 5:31:56 PM
राहुल तो भाषण देने में ही कन्फ्यूज हो जाते हैं: शिवराज

शहडोल। कांग्रेसी मुझे पानी पी-पीकर गालियां देते हैं। अब तो राहुल गांधी भी मुझे याद करते हैं, लेकिन राहुल भाषण देते समय ही कन्फ्यूज हो जाते हैं। शहडोल की जनसभा में आज मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कांग्रेस और उसके अध्यक्ष राहुल गांधी को जमकर आड़े हाथों लिया।

 
जैतपुर और उमरिया के भाजपा प्रत्याशियों के पर्चे भराने मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान मंगलवार को जिले की चुनावी यात्रा पर पहुंचे। इस दौरान उन्होंने शहडोल के टेक्निकल ग्राउंड में एक आमसभा को भी संबोधित किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि शहडोल मेरी अंतरात्मा से जुड़ा हुआ है। मैं जितनी बार यहां आया हूं उतनी बार कोई मंत्री नहीं आया। शिवराज ने कहा कि शहडोल आगे बढ़े और इसका विकास हो। मेंने इसे संभाग बनाया, शहडोल में मेडिकल कॉलेज, इंजीनियरिंग, कॉलेज यूनिवर्सिटी की स्थापना आदि काम विकास की कहानी कहते हैं।
मुख्यमंत्री ने सभा में उपस्थित लोगों से पूछा कि ईमानदारी से बताएं, क्या कभी कांग्रेस ने अपने शासन में इतना विकास किया है। 
 
उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने शहडोल को बर्बाद करके छोड़ दिया है। उन्होंने कहा कि युवाओं के उत्साह को मैं प्रणाम करता हूं। आज मैं कहना चाहता हूं कि हम जहां तक पहुंचे हैं, अब उससे और आगे बढ़ना है। उन्होंने कहा कि मैं विकास के साथ-साथ जनता के कल्याण के काम भी करता हूं। मुख्यमंत्री ने कांग्रेस शासन की चर्चा करते हुए कहा कि जब श्रीमान बंटाधार जी का शासन था तब सड़क खत्म, बिजली का पता नहीं था। दीपावली की रात भी अंधेरों में कटती थी, किसान की फसल बिजली के इंतजार में सूख जाती थी। सिंचाई की व्यवस्था नहीं थी। कांग्रेस ने ऐसा मध्यप्रदेश छोड़ा था। मुख्यमंत्री ने कहा कि अब मैं मध्यप्रदेश को समृद्ध प्रदेश बनाऊंगा। समृद्ध मध्यप्रदेश की चर्चा करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि समृद्धि मध्यप्रदेश का मतलब है कि किसी को कोई कमी नहीं रहेगी।
COPYRIGHT @ 2018 SWADESH. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS