Ad
ब्रेकिंग न्यूज़
चुनावी शंखनाद के बाद फिर 27-28 सितंबर को मध्य प्रदेश आएंगे राहुलपदमा शुक्ला हुई बागी, भाजपा का साथ छोड़ थामा कांग्रेस का हाथUN ग्लोबल मीडिया कॉम्पैक्ट में भारत का सूचना प्रसारण मंत्रालय शामिलकांग्रेस का वित्त मंत्री पर पलटवार, 'मोदी सल्तनत के दरबारी विदूषक' बनने को बेताब हैं अरुण जेटलीजम्मू कश्मीर : नियंत्रण रेखा के पास सुरक्षाबलों का आतंक निरोधक अभियान, 3 आतंकियों को किया ढेरपश्चिम बंगाल में एक और हादसा, दक्षिण 24 परगना जिले में गिरा निर्माणाधीन पुलशिवराज सरकार में मंत्री दर्जा प्राप्त पदमा शुक्ला ने छोड़ी पार्टी, भाजपा में मचा हड़कंपअब क्षेत्रीय ग्रामीण बैंकों का भी होगा एकीकरण, संख्या घटकर होगी 36
देश
कांग्रेस ने 70 सालों तक किसानों की अनदेखी की : प्रधानमंत्री
By Swadesh | Publish Date: 11/7/2018 2:03:55 PM
कांग्रेस ने 70 सालों तक किसानों की अनदेखी की : प्रधानमंत्री

नई दिल्ली। अगले वर्ष होने वाले लोकसभा चुनाव को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज पंजाब के मलोट में एक बड़ी किसान रैली को संबोधित किया। प्रधानमंत्री ने अपने भाषण की शुरुआत पंजाबी भाषा में की। रैली में पीएम मोदी ने कहा कि सिख समुदाय आज सीमा की रक्षा हो या फिर खाद्य सुरक्षा हो हर जगह प्रेरणा दी है। पंजाब ने हमेशा खुद से पहले देश के लिए सोचा है। प्रधानमंत्री ने कहा कि पिछले 4 साल में कई बार पंजाब आया हूं और लोगों से मिला हूं। 

 

प्रधानमंत्री ने कहा कि बीते चार साल में किसानों ने देश के अन्न भंडार से भर दिया है, गेंहू-धान-चीनी-कपास-दाल में हर जगह किसानों ने उत्पादन के रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं। किसान लगातार मेहनत करता आ रहा है, लेकिन किसानों पर दशकों तक ध्यान नहीं दिया गया। उन्होंने कहा कि बीते 70 साल में जिस पार्टी पर किसानों ने भरोसा किया था, उस पार्टी ने किसानों की इज्जत नहीं की। इस दौरान सिर्फ एक परिवार की चिंता की गई। उन्होंने कहा कि हर तरह की सुविधाएं सिर्फ एक परिवार को दी गई और उनके लिए ही काम किया गया। किसानों की मेहनत को दरकिनार किया गया था।

 

साथ ही उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने सिर्फ किसानों को धोखा देने का काम किया है, लेकिन जब से हमारी सरकार आई है तभी से हमने किसान और जवान का ध्यान रखा और उन्हें किए हुए वादों को पूरा किया। उन्होंने कहा कि 40 साल तक कांग्रेस को वन रैंक वन पेंशन लागू करने की हिम्मत नहीं थी, लेकिन हमने किया। हमारी सरकार ने फसलों का दाम लागत से डेढ़ गुना एमएसपी करने का ऐतिहासिक फैसला लिया है।

COPYRIGHT @ 2018 SWADESH. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS