Ad
देश
अन्याय, भेदभाव के खिलाफ आवाज उठाती रहेगी एनएपीएम : ऊषा
By Swadesh | Publish Date: 10/12/2018 3:34:27 PM
अन्याय, भेदभाव के खिलाफ आवाज उठाती रहेगी एनएपीएम : ऊषा

नई दिल्ली। राष्ट्रीय जन आंदोलन समन्वय (एनएपीएम) से जुड़ी ऊषा ने कहा कि वर्तमान केन्द्र सरकार समाज को धर्म, जाति, विचारधार के आधार पर बांटने का काम कर रही है। उन्होंने जंतर-मंतर पर अंतरराष्ट्रीय मानवाधिकार दिवस के मौके पर एक सभा को संबोधित करते हुए कहा कि एनएपीएम गैर- बराबरी, दमन, अन्याय, और भेदभाव के खिलाफ आवाज उठाती रहेगी। 

 
सभा को संबोधित करते हुए ऊषा ने कहा कि कर्नाटक में गौरी लंकेश और कलबुर्गी की हत्या कर दी गई क्योंकि वो लोग एक खास विचारधारा के खिलाफ लिखते थे। ऐसे ही महाराष्ट्र में गोविन्द पानसरे को मार दिया गया क्योंकि वे छत्रपति शिवाजी महाराज के नाम पर वैमनस्य फैलाने वालों के विरोध में थे। उषा ने सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि वर्तमान सरकार संविधान की रक्षा करने में विफल रही है।
 
उल्लेखनीय है कि संविधान और लोकतंत्र के मूल्यों को बहाल व संरक्षित करने के लिए राष्ट्रीय जन आंदोलन समन्वय (एनएपीएम) ने दो अक्टूबर से 'संविधान सम्मान यात्रा' निकाली थी। यह राष्ट्रव्यापी यात्रा गुजरात के दांडी से होते हुए आज सोमवार को दिल्ली के जंतर- मंतर पहुंची है। आज यहां पर अंतरराष्ट्रीय मानवाधिकार दिवस के मौके पर एनएपीएम के साथ कई और संगठन एकत्र होकर केंद्र सरकार के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं।
 
COPYRIGHT @ 2018 SWADESH. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS