Ad
देश
डालीगंज-कासगंज रूट पर दो साल में पूरा होगा विद्युतीकरण
By Swadesh | Publish Date: 10/1/2019 12:41:46 PM
डालीगंज-कासगंज रूट पर दो साल में पूरा होगा विद्युतीकरण

लखनऊ। रेल विकास निगम लिमिटेड (आरवीएनएल) डालीगंज-कासगंज रूट पर अगले दो साल में विद्युतीकरण का कार्य पूरा कर लेगा। इसके बाद इस रूट पर मेमू ट्रेनें चलाई जाएंगी।

 
आरवीएनएल निदेशक अरुण कुमार ने गुरूवार को यहां बताया कि ऐशबाग से डालीगंज रूट पर विद्युतीकरण पहले से है। आरवीएनएल डालीगंज-कासगंज रूट पर अगले दो साल में पूरी तरह से विद्युतीकरण का कार्य पूरा कर लेगा। इसके बाद इस रूट पर मेमू ट्रेनें चलाई जाएंगी।
 
उन्होंने बताया कि ऐशबाग-सीतापुर रूट पर आमान परिवर्तन के साथ विद्युतीकरण नहीं हो पाया था। आरवीएनएल की ओर से शुरुआत में ऐशबाग-सीतापुर रूट पर आमान परिवर्तन का काम पूरा हुआ है। इस पर गत बुधवार से पैसेंजर ट्रेन भी चलने लगी है।
 
आरवीएनएल निदेशक ने बताया कि दूसरे चरण में सीतापुर-मैलानी और फिर मैलानी-पीलीभीत रूट पर आमान परिवर्तन का काम शुरू किया जाएगा। लखनऊ-पीलीभीत रूट करीब 262 किलोमीटर का है। इस पर आमान परिवर्तन का कार्य होने वाला इसको पूरा होने में अभी समय लगेगा। इस रूट पर विद्युतीकरण का काम 400 करोड़ रुपये की लागत से होगा। वर्ष 2021 में लखनऊ से सीतापुर और आगे तक ट्रेनें डीजल की जगह इलेक्ट्रिक इंजन से चल सकेंगी।
 
COPYRIGHT @ 2018 SWADESH. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS